Breaking Newsहमारा गाजियाबाद

गाजियाबाद समेत दिल्ली के सभी रास्ते बंद

विज्ञान भवन में सरकार से किसानों की वार्ता शुरू, किसानों ने एनएच 9, एनएच 24 व मेरठ-एक्सप्रेस वे पर किया कब्जा

image_pdf

आप अभीतक
गाजियाबाद। कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान लगातार आंदोलन कर रहे है। आंदोलन के चलते एनसीआर की ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। दिल्ली में एंट्री वाले सिंघू बॉर्ड, जीटी करनाल रोड, यूपी गेट पर गाजीपुर बॉर्डर सहित कई इलाकों में जाम की भारी समस्या है।


गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाली लेन बंद है जबकि दिल्ली से गाजियाबाद आने वाली लेन में टैÑफिक धीरे-धीरे चल रहा है। नोएडा लिंक रोड भी पूरी तरह जाम पड़ी है। प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों से कई दौर की बातचीत के बावजूद किसान दिल्ली जाने वाले मार्ग पर जमे बैठे है और नारे बाजी कर रहे है। किसानों ने बेरिकेटिंग लगाकर रस्सी बांध दी है जिसमें वे मीडिया को भी प्रवेश से रोक रहे है। इस दौरान सुरक्षा बलों की संख्या भी बढ़ा दी गई है।


एसपी सिटी अभिषेक वर्मा का कहना है कि हम किसानों से बात कर रहे है ताकि नाकेबंदी खत्म की जा सके। श्री वर्मा ने कहा कि दिल्ली में प्रवेश के लिए यह प्रमुख मार्ग है जहां से दिल्ली में जाया जा सकता है लेकिन यही पूरी तरह बंद है। उधर सिंघू बॉर्डर पर ट्रैफिक का आवागमन पूरी तरह ठप है।


इसी बीच विज्ञान भवन में सरकार के साथ किसानों की चौथे दौर की बात चीत शुरू हो चुकी है। इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह के घर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह पहुंच चुके है। लगातार फैलती जा रही आंदोलन की आग आज कुछ शांत हो सकती है ऐसा अंदाजा लगाया गया है। हालाकि नोएडा एक्सप्रेस वे के रास्ते भारी संख्या में किसान दिल्ली की ओर बढ रहे है। आशंका है कि कुछ अन्य रास्तों पर भी पुलिस बेरिकेटिंग कर सकती है। गाजियाबाद में बागपत की ओर से किसानों के आने की सूचना मिलने पर लोनी की सीमा पूरी तरह सील कर दी गई है। किसान आंदोलन के कारण चिल्ला बॉर्डर पर कालिन्दी कुंज रूट पर लम्बा जाम लगा हुआ है। किसानों ने यूपी से दिल्ली जाने वाली दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे को पूरी तरह बंद कर दिया है। एनएच 9 और एनएच 24 पर गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाला रास्ता किसानों ने पूरी तरह बंद कर दिया है। किसान एनएच 9 पर चढ़ गये है और इसे दोनों तरफ से बंद कर दिया है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close