Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीय

मुकुट मेमोरियल चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान मैं राम लीला का आयोजन किया गया

मुकुट मेमोरियल चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान मैं राम लीला का आयोजन किया गया

image_pdf

मुकुट मेमोरियल चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान मैं राम लीला का आयोजन किया गया

मुख्य अतिथि नरेश कुमार ने रिबन काट कर और दिप पर्वजवलित कर के सुभ आरम्भ सुभारम्भ  किया

ट्रस्ट के चैयरमेन प्रशांत गुप्ता ने बताया कि कोविद महामारी के समय सरकार की तरफ से हमारे धार्मिक कार्यक्रम रामलीला के आयोजन की अनुमति नही थी

इस विकट समय मैं ट्रस्ट के सभी सदस्यों ने virtual meet theme रामायण का आयोजन करने का सुझाब दिया क्योंकि रामायण का आयोजन सदियों से पूरे विश्व मे अनेक सगठनों के दुवारा आयोजित किया जाता रहा है ट्रस्ट के चैयरमेन प्रशांत गुप्ता ने बताया कि ट्रस्ट  की महासचिव और मेरठ प्रभारी प्रियंका अग्रवाल को इस आयोजन की जिम्मेदारी दी गई प्रियंका ने  सभी सदस्यों के साथ मिल कर बहुत मेहनत की संवाद लिखे बच्चो को याद करने को दिए पिछले 1 माह से सब अपनी अपनी तैयारी कर रहे थे  अभ्यास कर रहे हैं

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम  की कथाओं को हम सब रामायण के नाम से जानते हैं कहते हैं रामायण प्रत्येक घर मे होनी चाहिए हर व्यक्ति को अध्ययन करना चाहिए 24 घण्टे के अखण्ड पाठ के साथ नही अपितु अर्थ और भावार्थः के साथ मनन करना चाहिए

प्रियंका अग्रवाल ने बताया कि रामायण का हर पात्र नायक की भूमिका मैं अथवा खलनायक जीवंत सन्देश है भगवान राम तो पूरे विश्व मैं शेष्ठ है ही माता सीता जी धरती से जन्मी धरनी के सभी गुण विद्यमान रखती है हर परिस्थिति को सहजता से स्वीकार किया

सार्थक अग्रवाल ने बताया कि भरत और लक्ष्मण जैसा भाई विभीषण से भी शिखिये ज्ञानी है और जानते हैं कि राम की शरण मैं जाने से घर का भेदी नाम से कलंकित होंगे किन्तु जब नारी की अस्मिता पर अगर बात बने लंका को विध्वंस से  बचाना आवयश्कता है

खुशी अग्रवाल ने बताया कि स्वरूपनखा का चरित भी सिख  देता है कि पर नारी के अधिकारों पर अगर डाका डालेगी तो समाज मे ऐसे ही नाक कटेगी रावण जैसा भाई जो अपनी बहन के लिये मर मिटने को तैयार आदि रामायण का हर किरदार से कुछ ना कुछ सीखने को मिलता है हर एक व्यक्ति मैं हनुमान है सब मैं असीमित शक्ति है आज  vartual रामायण मैं हनुमान की भूमिका खुशी अग्रवाल , सीता जी की भूमिका प्रियंका अग्रवाल , राम की भूमिका सार्थक अग्रवाल ने निभाई मंच का संचालन मनीष मित्तल ने किया रामायण की चोपाई सुना कर सब दर्शक को मंत्र मुग्ध कर दिया रावण का किरदार रेणु कंसल  ने निभा कर जीवंत कर दिया

शबरी का किरदार निभाय भावना मित्तल ने प्रुभ की भक्ति समर्पण प्यार दुलार  ये सब माता शबरी से सीखने को मिलता है  भगवान राम को गंगा पार कराने वाले हमारे केबट का किरदार निभाया मान्या मित्तल ने

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close