Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

छोटे बच्चों को स्कूल भेजने का विरोध कर रहे हैं अभिभावक

छोटे बच्चों को स्कूल भेजने का विरोध कर रहे हैं अभिभावक

image_pdf

गाजियाबाद। केंद्र और प्रदेश सरकार ने 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने पर सहमति जताई है। दूसरी तरफ अभिभावक छोटे बच्चों को स्कूल भेजने का विरोध कर रहे हैं।
गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने पर सहमति जताते हुए कहा है कि छात्रों की उपस्थिति आवश्यक नहीं होगी। स्कूल खोले जाने के बावजूद ऑनलाइन कक्षाएं चलती रहेंगी। स्कूल में बच्चों के बैठने की व्यवस्था कोविड-19 के बचाव के अनुरूप करनी होगी।
इन सारे दिशानिर्देशों को देखते हुए स्कूल संचालकों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। दूसरी तरफ अभिभावकों का कहना है कि वह अपने बच्चों को महामारी की प्रयोगशाला का पात्र नहीं बना सकते। महामारी का प्रकोप अभी बना हुआ है ऐसे में बच्चों का स्कूल जाना खतरे से खाली नहीं है। अभिभावकों और छात्रों के हित में बनाए गए इस संगठन भी बच्चो को स्कूल भेजने का विरोध करते हुए कह रहे हैं कि यह फैसला बच्चों के पूरी तरह खिलाफ है। अभी प्रदेश सरकार की तरफ से विरोध के बाद कोई नई एडवाइजरी जारी नहीं की गई है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close