Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीय

महानगर अध्यक्ष ने अस्पतालों में इलाज का खर्च न्यूनतम तय करने की मांग की

महानगर अध्यक्ष ने अस्पतालों में इलाज का खर्च न्यूनतम तय करने की मांग की

image_pdf

गाजियाबाद मे कोरोना संक्रमण लगातार अपने पैर  पसारता जा रहा है । कोरोना संक्रमण की चपेट में आए लोगों को इस महामारी में आर्थिक मंदी के चलते प्राइवेट अस्पतालों में कराना महंगा पड़ रहा है । लगातार ऐसी शिकायतें भी मिल रही है की प्राइवेट अस्पताल मरीजों को अस्पताल में भर्ती भी नहीं कर रहे हैं । अगर किसी मरीज को भर्ती भी कर रहे हैं तो उसका प्रतिदिन आईसीयू का खर्चा सामान्य बैठकर खर्च से बहुत अधिक मात्रा में ले रहे हैं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गाजियाबाद के नामचीन अस्पताल प्रतिदिन आईसीयू का खर्चा 50000 से 60000 तक मरीजों के तीमारदारों से वसूल कर रहे हैं । ऐसे भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने निजी अस्पतालों के इलाज के खर्चे को लेकर मांग की है की प्राइवेट अस्पतालों के खर्चे निर्धारित किए जाएं । अभी कुछ दिन पहले ही भाजपा से नगर निगम के पूर्व मेयर आशु वर्मा ने इस मुद्दे को उठाया था । अब भारतीय जनता पार्टी के महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा ने भी यह मांग उठाई है की दिल्ली की तर्ज पर नृत्य में इलाज खर्चा निर्धारित होना चाहिए । संजीव शर्मा ने इस मुद्दे को लेकर स्थानीय सांसद व केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्री जनरल वीके सिंह के समक्ष रखा है ।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close