Breaking Newsराष्ट्रीय

पेट्रोल और डीजल ने लगा दी आग , जनता परेशान।

पेट्रोल और डीजल ने लगा दी आग , जनता परेशान।

image_pdf

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती दरों ने आम जनता का जीना मोहाल कर दिया है, जिसे तरह से रोज़ ब रोज़ पेट्रोल डीज़ल के दामों में भाड़ोत्री हो रही है वही आम आदमी की कार्यशैली इस से चरमराती हुई नज़र आ रहे है।  पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती दरें जहा आम जनता की सोच से परे है  वही किसानों के भी होश उड़ा दिए है कियो की भारत एक कृषि प्रधान देश है खेती में इस का उपयोग होता है इस से फसल भी महंगी होगी और किसानों को आर्थिक तंगी भी होगी वही कई राजनीतिक संगठन भी इसके विरोध में प्रदर्शन कर रहे है।

पेट्रोल और डीज़ल की बढ़ती दरों पर जनता के विचार आप के समक्ष है

विकास शर्मा (कांग्रेसी नेता) : विकास शर्मा ने हमसे बात करते हुए बताया की कांग्रेस के कार्यकाल में जिसका विरोध भारतीय जनता पार्टी करती थी आज वह खुद उस स्थान पर खड़ी है और जनता के साथ रोज़ एक नया मज़ाक कर रही है।  उन्होंने बताया की आज़ादी के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि पेट्रोल-डीज़ल के दामों में इतनी भड़ोत्री हुई है और डीज़ल पेट्रोल के समान आ गया है। उन्होंने कहा कि देश ने इतनी विपदा झेली है लेकिन यह सरकार इस देश के लिए सबसे बड़ी विपदा है, जिसका खामियाज़ा मधय वर्ग को भुगतना पद रहा है।

निज़ाम चौधरी (आज़ाद समाज पार्टी कोर कमेटी सदस्य) :  ने कहा कि जब से यह सरकार आई है किसी भी चीज़ के दाम काम नहीं हुए है, उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने शुरुवाती दिनों से ही हर चीज़ के दामों में भड़ोत्री कर दी थी।  यह सरकार अपने हर वादे में फेल हुई है चाही वह आर्थिक स्तिथी को सुधारने का हो या समाज के प्रती लिया गया कोई वादा हो।  जब अरब घाटी से तेल काम दरों में आता है तो सरकार उसे तीन गुना बढ़ा कर क्यों बेच रही है।  यह चोरो कि सरकार है जो सिर्फ ग़रीबो को नोच-नोच कर खा रही है और उसकी मेहनत से अपना पेट पाल रही है।

रशीद मालिक ( जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी) :  यह सरकार केवल ग़रीबो का खून चूस रही है और इनके खून को चूस-चूस कर अपना पेट भर रही है। जब सरकार बनी थी तब इन्होने बड़े ज़ोर-शोर से नारे लगाए थी कि रोज़गार भडांगे, महंगाई कम होगी, नई-नई योजना का लाभ मिलेगा।  लेकिन यह सिर्फ जुमले बाज़ी थी और इन योजनाओ का लाभ केवल सरकार अपने लोगो को दे रही है।  आज स्तिथी यह है कि लोगो के पास काम नहीं है खाने को नहीं है।  इस सरकार ने केवल पूंजीपतियों को बढ़ावा दिया है और मधय वर्ग को ख़तम करने का काम इस कूटनीती वाली सरकार ने किया है।

इंद्रजीत सिंह टीटू (प्रवक्ता आरएलडी) :  यह सरकार संवेदनशील हो गई है।  यह सरकार जनता को इस तरह परेशान कर रही है जैसे सुनार सोने को आकार में लाने के लिए धीरे-धीरे सोने पर चोट मारता है ठीक उसी तरह यह सरकार भी यह सरकार भी जनता को धीरे मार देकर खोखला कर रही है।  पहले जब यह सरकार विपक्ष में थे प्रट्रोल-डीज़ल पर 50 पैसे बढ़ते ही सड़को पर उतर जाती थी।  लेकिन अब यह सरकार केवल गुमराह करने का काम कर रही है और जनता को असली मुद्दे से भटका कर उसके दिमाग़ के साथ खेल रही है।

एसपी सिंह (बीजेपी नेता) : ने बताया कि सरकार स्तिथी के अनुसार कार्य कर रही है।  यह पॉलिसी बोहोत पहले ही कंपनियों को भेज दी गयी थी और यह पालिसी कांग्रेस के कार्यकाल में ही बन गयी गई थी जो कि कम्पनियो कि सहमती से बनी थी। यह पालिसी कांग्रेस कि देन है सरकार को इस विषय पर सोचना चाहिए और इस पालिसी में बदलाव करना चाहिए।  उन्होंने कहा कि मुझे यक़ीन है सरकार इसका कोई न कोई हल निकाल ही लेगी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close