फिल्म समीक्षाबॉलीवुड तड़का

लॉकडाउन 4.0 से फिल्म-टीवी इंडस्ट्री पर संकट, शूटिंग ठप, आर्थिक नुकसान से बिगड़ेगा खेल

लॉकडाउन 4.0 से फिल्म-टीवी इंडस्ट्री पर संकट, शूटिंग ठप, आर्थिक नुकसान से बिगड़ेगा खेल

image_pdf

17 मई को देशभर में लगे लॉकडाउन की अवधि को 31 मई तक बढ़ाने का ऐलान हुआ. एक बार फिर से लॉकडाउन 4.0 लगने से फिल्म और टीवी इंडस्ट्री के काम पर ब्रेक लग गया है. सितारे घर पर रहने को मजबूर हो गए हैं. इस बीच चिंता की बात ये भी है कि मायानगरी मुंबई को कोरोना ने सबसे ज्यादा अपनी चपेट में ले रखा है. वहां लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. ऐसे में अगर देशभर में लॉकडाउन में ढिलाई बरती भी जाती तो भी मुंबई के लिए राहत की खबर नहीं होती.

आखिरकार जब शूटिंग हब मुंबई की रफ्तार पर ही रोक लगी होगी तो शूटिंग कैसे हो पाएगी. अब लॉकडाउन 4.0 ने प्रोड्यूसर्स और निर्देशकों की मुसीबत को बढ़ा दिया है. लॉकडाउन खुलने के इंतजार में बैठे मेकर्स के लिए ये वक्त काफी चुनौतियों से भरा है. एक तरफ काम का नुकसान, दूसरी तरफ आर्थिक तंगी उनके गले की फांस बनी हुई है. कई मेकर्स ने तो शो को बिना अंजाम तक पहुंचाए ही इन्हें ऑफएयर कर दिया है. फिल्में सिनेमाघरों की बजाय डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज करने की घोषणाएं हो रही हैं.

ऐसे में लॉकडाउन ने एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को बड़ी मुसीबत में ला खड़ा किया है. लॉकडाउन 4.0 के बाद 5.0 के भी आसार जताए जा रहे हैं. कोई नहीं जानता कि हालात कब सामान्य होंगे. लॉकडाउन की वजह से पहले ही हिंदी टीवी इंडस्ट्री के 5 शोज ऑफएयर हो चुके हैं. पटियाला बेब्स, दिल जैसे धड़के धड़कने दो, बेहद 2, नजर 2, इशारों इशारों में को बिना अंजाम तक पहुंचाए बंद कर दिया गया है. आने वाले दिनों में कई और शोज पर भी गाज गिर सकती है.

दूसरी तरफ, सिनेमाघरों का भविष्य अधर में लटक चुका है. लॉकडाउन खुलने के बाद भी सिनेमाघर कब खुलेंगे इस पर सस्पेंस है. कई फिल्में बनकर तैयार है उन्हें बस रिलीज का इंतजार है. ऐसे में मेकर्स अपनी फिल्मों को OTT प्लेटफॉर्म पर मोटी रकम लेकर रिलीज कर रहे हैं. गुलाबो सिताबो और शकुंतला देवी के अमेजन प्राइम पर रिलीज होने से सिनेमाघरों के मालिकों ने आपत्ति जताई है. फिलहाल दो फिल्में डिजिटल पर आने वाली है, आने वाले समय में ऐसी फिल्मों की तादाद बढ़ सकती है.

लॉकडाउन में सालों पुराने ट्रेंड को तोड़ दिया है. बड़ा पर्दा आज मूवी रिलीज को तरस रहा है. बड़े एक्टर्स की फिल्में पाइपलाइन में हैं. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लिए साल 2020 काले अध्याय की तरह साबित हो रहा है. बॉक्स ऑफिस को करोड़ों का नुकसान हुआ है. देखना होगा, कब हालात सुधरते हैं और टीवी शोज-फिल्मों की पर्दे पर रौनक फिर से लौटती है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close