Breaking Newsराष्ट्रीय

विशेष ट्रेनों में जा रहे श्रमिकाें के खर्च का श्रेय लेने में जुटी कांग्रेस, MLA राजा वडिंग ने बांटे पर्चे

विशेष ट्रेनों में जा रहे श्रमिकाें के खर्च का श्रेय लेने में जुटी कांग्रेस, MLA राजा वडिंग ने बांटे पर्चे

image_pdf

पंजाब सहित कई राज्‍यों से बिहार, उत्‍तर प्रदेश,झारखंड सहित विभिन्‍न प्रदेशों के श्रमिकों को विशेष ट्रेनों में सरकार के खर्च पर भेजा जा रहा है। बताया जाता है कि इस खर्च का 85 फीसद केंद्र सरकार और 15 फीसद संबंधित राज्‍य सरकार वहन कर रही है। लेकिन, पंजाब में कुछ कांग्रेस नेताओं के दावे से नया विवाद छिड़ने की संभावना है। सोमवार को कांग्रेस के वरिष्‍ठ विधायक व युवक कांग्रेस के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने बठिंडा रेलवे स्‍टेशन से ट्रेन में जा रहे श्रमिकों को परचे बांटकर दावा किया कि उनकी यात्रा का सारा खर्च कांग्रेस और सोनिया गांधी दे रहे हैं।

राजा वडिंग ने इस तरह एक नया विवाद छेड़ दिया है। रोजी-रोटी की तलाश में पंजाब आए उत्तर प्रदेश, बिहार व झारखंड के 2576 श्रमिकों को सोमवार को बठिंडा रेलवे स्‍टेशन से दो स्पेशल ट्रेनों में रवाना किया गया। इस दौरान वडि़ंग व अन्य कांग्रेस नेता भी रेलवे स्टेशन पहुंच गए। उन्होंने अपने घर को लौट रहे श्रमिकों को जिला कांग्रेस की ओर से छपवाए गए पर्चे बांटे, जिन पर लिखा था- ‘मुश्किल दौर में कांग्रेस ने ही हाथ थामा।’

इस दौरान पर्चे बांटते हुए राजा वडिंग़ और कांग्रेस नेता श्रमिकों को जोर-जोर से कह रहे थे कि आपको कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से खुद पैसे खर्च करके वापस भेजा जा रहा है। आपका सारा खर्चा कांग्रेेस पार्टी, साेनिया गांधी और कैैप्‍टन अमरिंदर सिंह द्वारा दिया जा रहा है। कैप्टन सरकार ने इस काम के लिए 35 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। वहीं यात्रियों को भोजन व पानी भी मुहैया करवाया गया है।

पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन बठिंडा से बिहार के मुजफ्फरपुर के लिए 1388 श्रमिकों को भेजा गया। शाम को झारखंड के डाल्टनगंज के लिए दूसरी ट्रेन 1188 श्रमिकों को लेकर रवाना हुई। स्टेशन पर पहुंचे 500 से ज्यादा लोगों को रजिस्ट्रेशन न होने के कारण वापस भेजा गया। पंजाब सरकार ने मुज्जफरपुर गई ट्रेन के लिए 7.21 लाख व डाल्टनगंज गई ट्रेन के लिए 7.12 लाख रुपये खर्च किए गए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close