हमारा गाजियाबाद

कोरोना वायरस को लेकर 20 लाख रुपए की राहत सामग्री 19 अप्रैल रविवार को सांय 5 बजे गाजियाबाद जिलाधिकारी निवास पर सौपेंगे समाजसेवी धर्मपाल गर्ग एव अनुज धर्म गर्ग

देश कोरोना वायरस संक्रमण के लेकर प्रधानमंत्री द्वारा किए गए लॉकडाउन के दौरान सभी दुकानें बंद पड़ी है तथा बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ है। गाजियाबाद में कोरोना के पॉजीटिव मरीज मिल जाने के बाद किराणा, सब्जी व दूध की दुकानों को भी बंद करवा दिया गया है।

image_pdf

देश कोरोना वायरस संक्रमण के लेकर प्रधानमंत्री द्वारा किए गए लॉकडाउन के दौरान सभी दुकानें बंद पड़ी है तथा बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ है। गाजियाबाद में कोरोना के पॉजीटिव मरीज मिल जाने के बाद किराणा, सब्जी व दूध की दुकानों को भी बंद करवा दिया गया है। हालांकि आवश्यकता के अनुसार घरों पर सामान पहुंचाया जा रहा है, लेकिन दुकानें बंद होने के कारण बाजार सूने हो चुके है। भय व आशंका के बीच कोई व्यक्ति बाहर नहीं निकल रहा है। लोग घरों में ही विश्राम कर रहे है। कस्बे में पुलिस की ओर से सतर्कता बढ़ा दी गई है। चारों तरफ पुलिस बल तैनात है तथा गाजियाबाद के लगने वाली सीमाओं को सील कर दिया गया है। आवागमन पर पूरी तरह से पाबंदी है। स्थानीय लोगों को बाहर जाने व बाहर के लोगों को अंदर आने पर पूरी तरह से रोक है।जिला प्रशासन व पुलिस के अधिकारी और जवान मुस्तैदी के साथ कार्य कर रहे है।
जरुरतमंदों की भामाशाह कर रहे है मदद
क्षेत्र में गरीब, असहाय, मजदूर व जरुरतमंदों को लॉकडाउन के दौरान खासी परेशानी हो रही है। ऐसे में भामाशाह आगे आकर उनकी मदद कर रहे है। इस अवसर गाजियाबाद सुप्रसिद्ध भामाशाह एवं समाजसेवी धर्म पाल गर्ग अध्यक्ष श्री दूधेश्वरनाथ मंदिर विकास समिति एवं अनुज धर्म गर्ग की ओर से घर में बैठे 5000 से अधिक मजदूरों के लिए भोजन के किट की व्यवस्था की गई है। जिसमें अनुज धर्म गर्ग ने बताया कि रविवार को 5000 परिवारों को राशन सामग्री के किट वितरित के लिए तैयार किये गये है जोकि जिसमे 5 किलो आटा,4 किलो चावल,1 किलो नमक,500ग्राम दाल,500 ग्राम सरसों तेल आदि राशन सामग्री जो रविवार को गाजियाबाद जिलाधिकारी को सुपुर्द कि जायेगी । जिसकी किमत करीब है ओर दिल्ली में भी राशन सामग्री का वितरण करवाया जा रहा है जो भामाशाह धर्मपाल गर्ग ने बताया कि हमारी पुरी कोशिश है सभी लोगों तक खाना ओर राशन पहुंच सके। कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close