Breaking Newsराष्ट्रीय

7 दिन से लगातार बाट रहे राहत सामग्री अनीश समाज सेवी

7 दिन से लगातार बाट रहे राहत सामग्री अनीश समाज सेवी

उत्तरपूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में हुई हिंसा में कई लोगों की मौत हो गयी और सैकड़ों लोग घायल हो गए. भारी संख्या में लोग बेघर हो गए एक ऐसा समाज सेवी देखा गया जो 7 दिनों से लगातार इन लोगो को राहत सामग्री का सामान दे कर लोगो की मदद करता नज़र आया अनीश मंसुरी एक कावड़ी की दुकान का संचालक है जो कि सुंदर नगरी के रहने वाला है अनीश ने बताया कि सरकार न जाने कब इनका निवारण करेगी जब तक यह बेसहारा लोग तड़प कर मर जाएंगे
अगर हम जैसे समाजसेवी इनकी मदद नहीं करेंगे तो कौन करेगा इनकी मदद दिल्ली सरकार ने कहा कि अपने घर की फोटो ओर तमाम कागज एसडीएम आफिस जा कर जमा कर दे आपको।राहत राशि मिल जाएगी अनीश ने बताया कि जिस आदमी के पास 1 रुपए न हो वो फ़ोटो कॉपी ओर अपने जले घर की फ़ोटो कैसे खीच कर दस्तावेज तैयार करेगा पहले सरकार को इनलोगो को राहत सामग्री देने का कार्य करना चाहिए था उसके बाद आगे की प्रक्रिया की जानी चाहिए
अनीश बाबर पुर मैं राहत सामग्री बाटने का कार्य कर रहे थे एक महिला तनीषा अल्वी ने बताया था कि मैं 2 दिन से भूख से तड़प रही थी मेरे घर को पूरी तरह जला दिया गया ओर मेरे पति को दंगाइयों ने बोहुत बुरी तरह पीटा जिससे वो हॉस्पिटल के चक्कर काट के परेशान हो गई थी अनीश दोवारा दी गई राहत सामग्री को ले कर तनिशा उम्र 34 रोने लगी अनीश मंसुरी ने बताया कि मैने उस दिन से ही लगातार राहत सामग्री बाटने का काम कर रहा हु अनीश अपनी महीने की कमाई का आधा हिसा इन पीड़ित बेसहारा लोगों पर खर्च कर रहे है राहत सामग्री में दिए गई चीजे कुछ इस तरह बाटी गई एक पीड़ित परिवार को 5 किलो आटा ओर दो अमूल दूध की थैली और ब्रेड के पैकेट सुन्दर नगरी के रहने वाले अनीश के आस पास के रहने वाले लोगो ने भी लिया हिसा गुलफाम बाबू लाल और अन्य लोगो ने अनीश के साथ मिल कर अन्य राहत सामग्री बाटने का कार्य कर रहे है
समाज सेवी अनीश ने बताया कि अभी तक हमने गुरु तेग बहादुर हॉस्पिटल मोर्चरी के सामने राहत सामग्री बाटी है और खजूरी मुस्ताबाद चांदबाद कर्दमपुरी बाबरपुर गोकलपुरी जगहों पर राहत सामग्री लोगों में बाटी है अनीस ने बताया कि दिल्ली में हुई हिंसा सबसे ज्यादा शिव विहार के लोगो का सबसे ज्यादा नुकशान हुआ है कल अनीश शिव विहार मैं राहत सामग्री बाटने का कार्य करेगे

Show More

Related Articles

Close