Breaking Newsराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

किसानों पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की घटना का अखिल भारतीय गुर्जर परिषद कड़े शब्दों में निंदा करता है

किसानों पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की घटना का अखिल भारतीय गुर्जर परिषद कड़े शब्दों में निंदा करता है

image_pdf

नोएडा प्राधिकरण पर शांतिपूर्ण धरना दे रहे किसानों पर मुकदमा दर्ज करना व जेल भेजने की घटना का अखिल भारतीय गुर्जर परिषद कड़े शब्दों में निंदा करती है साथ ही जेल में गए किसानों की रिहाई की मांग करती है किसानों की रिहाई के संबंध में प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय गुर्जर परिषद  व भीम आर्मी राष्ट्रीय कोर कमेटी के सदस्य एडवोकेट रविंद्र भाटी ने कल भीम आर्मी प्रमुख एडवोकेट चंद्रशेखर आजाद जी से दिल्ली में मुलाकात की और उनको अवगत कराया कि नोएडा प्राधिकरण को बने 44 साल में ग्रेटर नोएडा को बने 29 साल हो चुके हैं लेकिन किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं किया गया है किसानों के घर और आवास भी सुरक्षित नहीं है किसानों की जमीन पर प्राधिकरण और सरकार द्वारा करोड़ों और अरबों रुपए कमाने के बाद भी उनकी मूल आबादी को भी नहीं छोड़ा जा रहा है यदि कोई किसान अपना हक मांगने का प्रयास करता है तो उसे जेल भेज दिया जाता है या अपनी ही जमीन का भूमाफिया घोषित किया जाता है ना ही किसानों के बच्चों के लिए रोजगार के लिए कोई ठोस नीति है किसानों की जमीन जबरन अधिग्रहण करके बड़े-बड़े घोटाले किए जा रहे हैं इस पर भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने कहा यदि जेल में बंद किसानों को 10 दिन के अंदर  रिहा नहीं किया गया तो प्राधिकरण व गौतम बुध नगर प्रशासन बड़ा आंदोलन झेलने को तैयार रहे किसानों का शोषण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा लोकतंत्र में सबको अपनी बात कहने का अधिकार है भारत का संविधान हमें इसकी इजाजत देता है एडवोकेट रविंद्र भाटी ने कहा कि यदि किसानों को जल्द रिहा नहीं किया गया तो भीम आर्मी व गुर्जर परिषद संयुक्त रूप से आंदोलन करेगी

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close