Breaking Newsराष्ट्रीय

मायावती का बीजेपी पर हमला

मायावती का बीजेपी पर हमला

image_pdf

बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती बुधवार को अपना 64वां जन्मदिन ‘जनकल्याणकारी दिवस’ के रूप में मना रही हैं। इस दौरान मॉल एवेन्यू स्थित पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने भाजपा की केंद्र सरकार और कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश की स्थिति कांग्रेस काल से भी ज्यादा खराब हो गई है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस की सरकारों ने काम किया अब उसी राह पर केंद्र की बीजेपी सरकार चल रही है। भाजपा तो कांग्रेस से दो कदम आगे है। देश की अर्थव्यवस्था खराब हो गई है, तनाव और भय का माहौल है।

इससे पहले प्रेस कांफ्रेंस में बसपा मुखिया मायावती ने सबसे पहले कांशीराम को याद किया और पार्टी कार्यकर्ताओं से जनकल्याणकारी दिवस के रूप में अपना जन्मदिन मनाने का आह्लान किया। उन्होंने कहा कि कहा कि भाजपा, कांग्रेस की आलोचना छोड़कर देश हित और गरीबी हटाने का कार्य करे तो ज्यादा बेहतर रहेगा। उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण देश भर में अशांति और कानून व्यवस्था बिगड़ गई है, जो राष्ट्रीय चिंता का विषय है। बीजेपी सरकार अगर कांग्रेस के रास्तों पर चलती रही तो धीरे-धीरे अन्य राज्यों की सत्ता भी उसके हाथ से चली जाएगी।

बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) विभजनकारी और असंवैधानिक है। जब यह कानून लाया गया तब मैंने केंद्र सरकार से कहा था कि इस कानून को लेकर लोगों में बहुच संशय है। लोग इस कानून से बिल्कुल सहमत नहीं हैं। उन्होंने केंद्र से कहा था कि यह कानून किसी एक विशेष समुदाय के खिलाफ लग रहा है, जो असंवैधानिक है। इसलिए लोगों के भ्रम को दूर करने के लिए इस कानून को संसद में लाने के बजाय स्टैंडिंग कमेटी में भेजा जाए। इसके बाद आम सहमति से इस बिल को दोनों सदनों में लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सीएए उन सभी समुदाय के लोगों पर लागू होना चाहिए, जिन पर जुल्म-ज्यदती हुई है।

लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस के बाद वह दिल्ली रवाना हो जाएंगी और अपने परिवार के साथ जन्मदिन मनाएंगी। वहीं, जिलों के पहले से ही निर्देश जारी हो चुके हैं। वहां हर वर्ष की तरह कार्यकर्ता जनकल्याणकारी दिवस के रूप में अपनी नेता का जन्मदिन मनाकर समाज के लोगों को पार्टी से जोड़ने का प्रयास करें।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close