Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

जन्मदिन के बहाने राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल ने दिखाई ताकत

बधाई देने बालों का दिन भर लगा रहा तांता

गाजियाबाद। राज्यसभा सांसद एवं शिक्षाविद डॉ अनिल अग्रवाल के जन्मदिन पर सोमवार को उनके आवास पर जिस तरह सियासी नेताओं व कार्यकर्ताओं सामाजिक संगठन शिक्षाविदों, मीडिया जगत से जुड़े लोगों का जमावड़ा लगा उसने आगामी लोकसभा चुनाव की याद ताजा कर दी। हो ना हो जिस तरह सांसद के जन्मदिन पर भीड़ देखने को मिली उससे लगता है कि 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में अनिल अग्रवाल जोर आजमाइश कर सकते हैं । कवि नगर स्थित उनके आवास पर भाजपा ही नहीं अन्य दलों के नेताओं ने भी उन्हें जन्मदिन की बधाई देते हुए उनके दीर्घायु की मंगल कामना की। अंदरखाने लोगों की जुबान पर बस यही था कि लगता है अनिल अग्रवाल आने वाले चुनाव में दावेदारी ठोक सकते हैं। दरअसल पूर्व में जब राज्यसभा के लिए भाजपा के तमाम दिग्गज अपने आकाओं के यहां गणेश परिक्रमा कर टिकट के लिए दौड़ लगा रहे थे। तब अनिल अग्रवाल ने कई धुरंधरों को जोर का झटका धीरे से दे दिया और राज्यसभा का टिकट पाने में कामयाब ही नहीं हुए बल्कि राज्यसभा सांसद भी बन गए। तब किसी ने सोचा भी नहीं था कि अनिल अग्रवाल इस तरह राजनीति में पर्दे के पीछे से पदार्पण करेंगे और अब आम जनता में उनकी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। गाजियाबाद का वैश्य समाज ही नहीं अन्य वर्ग भी चाहता है कि इस बार लोकसभा चुनाव में स्थानीय नेता गाजियाबाद का प्रतिनिधित्व करें और इसके लिए डॉ अनिल अग्रवाल से बेहतर कोई शख्स हो नही सकता। सौम्य स्वभाव के धनी ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ कार्यकर्ता के रूप में उभरे राजनीति के नए सितारे सांसद अनिल अग्रवाल में वह सब गुण हैं जो एक प्रतिनिधि में होने चाहिए। भाजपा के पास जब ऐसा चेहरा है फिर बाहरी नेता को गाजियाबाद का टिकट क्यों। स्थानीय कार्यकर्ता ही नही गाजियाबाद की जनता भी चाहती है कि उनका प्रतिनिधि पूर्व सांसद स्व सुरेंद्र गोयल जैसा हो जो हरदम उनके सुख दुख में खड़ा दिखाई दे और यह सब गुण अनिल अग्रवाल में हैं।
बता दें कि पूर्व में 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में वर्तमान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया जनता ने जिताकर संसद भेजा लेकिन राजनाथ सिंह केवल भाजपा के सांसद बनकर रह गए। उन्हें जनता से सरोकार नहीं रहा इसी तरह 2014 और 2019 में भाजपा ने एक बार फिर आयातित उम्मीदवार वीके सिंह को लाकर खड़ा कर दिया जनता ने रिकार्ड मतों से जिताया जिसका ईनाम मंत्री बनकर मिला लेकिन गाजियाबाद की आम जनता से दूर हो गए। जबकि यहां की जनता को सुरेंद्र गोयल, रमेश चंद्र तोमर जैसा प्रतिनिधि चाहिए जो हमेशा उनके बीच रहकर उनकी पीड़ा समझ सके। परेशानी में खड़ा दिखे और इसके लिए डॉ अनिल अग्रवाल बेहतर विकल्प के तौर पर उभरे हैं। यहां की जनता अभी से अनिल अग्रवाल को अपना अगला प्रत्याशी मानने लगी है। शायद यही वजह है कि सासंद अनिल अग्रवाल के जन्मदिन पर लोगों ने पहुंचकर उन्हें बधाई दी और आगामी चुनाव में अपना गुप्त समर्थन भी दिया।

Show More

Related Articles

Close