Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

कोठी में घुसे संदिग्ध को मालिक ने गोली से मार गिराया

मृतक के अन्य साथी गोली चलते ही भागे

पुलिस संदिग्ध की शिनाख्त के प्रयास में जुटी
गाजियाबाद। टीला मोड़ थानाक्षेत्र में आज तड़के घर में घुसे संदिग्धों पर कोठी मालिक ने फायर झोंक दिया। बताया जा रहा है कि गोली लगने से एक संदिग्ध की मौत हो गई, जबकि उसके अन्य साथी भागने में कामयाब हो गए। यह सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज और थाना पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंचा और मृतक की पहचान करने में जुटे रहे किंतु उसकी शिनाख्त नही सकी। जिस कोठी मालिक ने संदिग्ध पर गोली चलाई वह भाजपा नेता का रिश्तेदार बताया जा रहा है। वहीं कोठी मालिक का दावा है कि संदिग्ध युवक लूट-चोरी के इरादे से घर में घुसे थे। एसएसपी मुनिराज ने बताया कि सुबह करीब साढ़े 4 बजे पुलिस को 112 नंबर पर सूचना मिली थी कि एक मोहल्ले में योगेंद्र मावी के घर पर कुछ बदमाश घुस आए हैं। पड़ोसी की छत से फायरिंग कर रहे हैं। इसकी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। तब पुलिस को कोई बदमाश नहीं दिखा। घर की तलाशी भी ली गई। मकान मालिक ने पुलिस को बताया कि कुछ लोगों ने फायरिंग शुरू कर दी। बचाव में योगेंद्र मावी ने लाइसेंसी पिस्टल से फर्स्ट फ्लोर के बेडरूम की बालकनी में फायरिंग की। बालकनी में एक व्यक्ति का शव पड़ा मिला है। ये आदमी कैसे अंदर आया, इसकी छानबीन हो रही है। घर के अंदर लूटपाट या चोरी नहीं हुई है। बदमाश अंदर एंट्री नहीं कर पाए हैं। फोरेंसिक, डॉग स्क्वायड टीम मौके पर है। सारे सबूत इकट्ठा हो रहे हैं। जल्द घटना का खुलासा किया जाएगा। पुलिस को घटनास्थल पर एक खाली बुलेट भी पड़ा मिला है। योगेंद्र मावी और उनके भाई ऋषि हवलदार पेशे से प्रॉपर्टी डीलर हैं। इनकी कोठी टीला मोड़ थाना क्षेत्र में जावली रोड पर है। यह घर एक भाजपा विधायक की पत्नी के मामा का है। सुबह साढ़े 4 बजे हुई इस वारदात के बाद एसएसपी मुनीराज, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल समेत कई थानों का फोर्स मौके पहुंचा। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।
क्या कहते हैं कोठी में रहने वाले ऋषि
ऋषि कुमार ने बताया कि हम दोनों भाई इस मकान के अलग-अलग हिस्से में रहते हैं। सुबह 4 बजे भतीजे ने मेरा दरवाजा खटखटाया। मैं उठा तो उसने कहा कि ताऊ हमारे यहां कुछ बदमाश आ गए हैं और गोली चली है। छोटा भाई जैसे ही बालकनी में निकलकर गया तो बदमाशों ने फायरिंग की। वह कमरे से लाइसेंसी पिस्टल निकालकर लाया और फायर किए। फायरिंग करने पर बदमाश भाग गए। इसके बाद भाई ने दूसरी तरफ गोली चलाई तो उसमें एक बदमाश को गोली लगी।

Show More

Related Articles

Close