Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

केंद्रीय मंत्री वी के सिंह व अतुल गर्ग के तीरों से धराशायी हुआ रावण

घंटाघर रामलीला मैदान में धू- धू कर जले बुराई के प्रतीक पुतले

गाजियाबाद। श्री सुल्लामल रामलीला में कुम्भकरण, मेघनाथ व अहिरावण के वध के बाद की लीला प्रारम्भ हुई। सुल्लामल रामलीला पिछले 121वर्ष से लीला का मंचन कर रही है। लीला रामलीला मंच के अतिरिक्त डासना गेट, रामघाट मंदिर, अनाजमंडी में मंचन किया जाता है। मंगलवार को केंद्रीय राज्यमंत्री बीएल वर्मा व पूर्व राज्यमन्त्री व शहर विधायक अतुल गर्ग ने लीला मैदान में पहुँच कर लीला का आनन्द लिया रामलीला आयोजक मंडल ने दोनों को शाल पहनाकर व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर बीएल वर्मा ने सुंदर व भव्य लीला के आयोजन के लिए आयोजक मंडल को बधाई दी। दशहरे वाले दिन रावण वध देखने के लिए आये सभी दर्शकों ने हाथ उठाकर जय श्री राम का उद्घोष किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह व विशिष्ट अतिथि के रूप में अतुल गर्ग उपस्थित रहे। दोनों ने तीर चलाकर रावण के पुतले में आग लगाई। इस अवसर पर वीके सिंह व अतुल गर्ग ने कहा कि रावण वध से हमें शिक्षा मिलती है कि बुराई का अंत अवश्य होता है। रावण बुराई का प्रतीक था राम ने रावण का वध कर समाज को उसके आतंक एवं अन्याय से मुक्त कराया। रावण ने सीता का हरण कर क्रूरता का परिचय दिया। रावण का वध हमारे मतानुसार सही प्रतीत होता है।
लीला में अध्यक्ष वीरू बाबा, उस्ताद अशोक गोयल, कार्यवाहक महामंत्री दिनेश शर्मा बब्बे, ज्ञान प्रकाश गोयल, राजेन्द्र मित्तल मेंदी वाले, संजीव मित्तल, अनिल चौधरी, आलोक गर्ग, सुबोध गुप्ता, विनय सिंघल, नरेश अग्रवाल प्रधान जी, सुधीर गोयल मोनू, अशोक सिंघल, राजेश बंसल, सुनील कुमार शीलो, सुभाष बजरंगी, राजीव शर्मा, दिनेश कुमार गोयल, नंद किशोर नंदू, श्री

Show More

Related Articles

Close