Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

रामलीला के दौरान झूला टूटने से चार लोग घायल

हादसे के बाद रामलीला मैदान में मची भगदड़

जिला एमएमजी में चल रहा है हादसे में हुए घायलों का इलाज
संवाददाता (आप अभी तक)
गाजियाबाद। घंटाघर स्थित रामलीला मैदान में देर रात को झूला टूटने से तीन बच्चों समेत चार लोग घायल हो गए है । चारों घायलों को जिला एमएमजी अस्पताल की इमरजेंसी में भर्ती कराया गया है। डॉ एसपी सिंह की निगरानी में तीनों का इलाज चल रहा है ।रामलीला मैदान में भगदड़ मच गई। आनन-फानन में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायलों को एमएमजी अस्पताल में भर्ती कराया है।
जानकारी के अनुसार श्री सुलामल रामलीला कमेटी द्वारा आयोजित रामलीला के दौरान रात के करीब 11:00 बजे झूले का एक कप टूट कर नीचे गिर पड़ा । इस कप में एक ही परिवार के चार सदस्य सवार थे चारों को गंभीर चोट आई और झूला टूटने के बाद रामलीला मैदान में अफरा तफरी का माहौल बन गया । समिति के सदस्यों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। कोतवाली थाना से आई पुलिस की टीम ने घायलों को तुरंत एमएमजी अस्पताल में भर्ती कराया गया ,जहां इमरजेंसी मेडिकल आॅफिसर डॉक्टर एसपी सिंह की देखरेख में घायलों का इलाज किया गया। घायलों में गिरधरपुर बिसरख की रहने वाली निशा पत्नी अवनीश और उनकी बेटी 8 वर्षीय अवनी शामिल है।
इसके अलावा कैलाश नगर के रहने वाले चमन लाल की 10 साल की बेटी हेमा भी गंभीर रूप से घायल हुई है। एक घायल का पता लगाया जा रहा है।एक बच्ची के माथे पर गंभीर चोट आई है, जिसको चार टांके लगाए गए हैं।
राहत की बात यह है कि या झूला टूटने के बाद दूसरे झूले से नहीं टकराया और कप बीच में जमीन पर गिरा जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। बताया गया है कि बृहस्पतिवार को भी झूले से गिरकर एक बच्चा घायल हो गया था।

कौन है हादसे का जिम्मेदार होनी चाहिए कार्रवाई
हैरत का पहलू यह है कि दैनिक आप अभी तक अखबार ने कल प्रमुखता से खबर को प्रकाशित किया और प्रशासन व रामलीला कमेटी के पदाधिकारी नहीं चेते। मसलन हुआ यह कि कल रात श्री सुल्लामल रामलीला कमेटी का झूला गिर गया और चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। क्या श्री सुल्लामल रामलीला कमेटी घंटाघर के पदाधिकारी और प्रशासन लोगों की जान से खिलवाड़ नहीं कर रहे हैं, यह कहना कोई अतिशयोक्ति नहीं है। इसलिए आंख मीच कर बैठे प्रशासन के अधिकारी और श्री सुल्लामल रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों को हो सकता है अपनी जान की परवाह ना हो मगर दूसरे की जान से खिलवाड़ ना करें। अवगत करा दे कि श्री सुल्लामल रामलीला कमेटी ने मेले का ठेका 1 करोड़ 60 लाख रुपए में छोड़ा है। आखिर यह पैसा कहां खर्च करते हैं यह आॅडिट होना चाहिए, क्योंकि अक्सर पैसे को लेकर कमेटी विवादों में रही है और विवाद होते रहे हैं।

Show More

Related Articles

Close