Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में डीएम ने दिखाए तेवर

लापरवाह स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने के निर्देश

मरीजों के पास समय से पहुंचे एंबुलेंस :राकेश कुमार गाजियाबाद। प्रदेश सरकार द्वारा संचालित स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुंचाने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के समस्त कार्यक्रमों योजनाओं की गहनता के साथ समीक्षा की। जिलाधिकारी ने सभी चिकित्सा अधीक्षक एवं सीएचसी,पीएचसी के एमओआईसी को निर्देश दिए कि विभाग की संचालित समस्त योजनाओं को लक्ष्य के अनुरूप निर्धारित समय सीमा के अन्दर पूर्ण करें। उन्होने कहा कि समस्त प्रभारी चिकित्सक अपने-अपने क्षेत्रों में स्थलीय निरीक्षण कर योजनाओं के क्रियान्वयन का सत्यापन कराया जाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ भवतोष शंखधर को निर्देशित किया कि सभी एमओआईसी की कार्य के अनुसार रैंकिंग निर्धारित की जाये। उन्होने कहा कि कार्यां के परफार्मेन्स के आधार पर रैंकिंग बनायी जाय। गत वर्ष की तुलना में कम पाये जाने पर संबंधित के विरूद्ध लिखित नोटिस जारी करें। जिलाधिकारी ने कहा कि विशेष अभियान चलाकर टीबी के मरीजों को खोजें। उन्होने कहा कि मजदूरों, पल्लेदारों एवं कोविड-19 के मरीजों की विशेष जांच करायी जाय। चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया कि जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थियों का शत्-प्रतिशत भुगतान समय से कराया जाए, इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने बैठक में प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना एवं प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अन्तर्गत किये गये कार्यों की समीक्षा करते हुुए मातृृत्व वन्दना योजना के लाभार्थियों की धनराशि का शीघ्र भुगतान कराये जाने के सम्बन्ध में प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये।
उन्होंने आयुष्मान गोल्डन कार्ड योजना के अन्तर्गत 05 लाख रूपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा गरीब लोंगो को दिलाये जाने हेतु गोल्डन कार्ड बनाये जाने के लिए व्यवहारिक रणनीति बनाते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों के माध्यम से लोगों को अधिक से अधिक संख्या में आयुष्मान कार्ड बनवाने के निर्देश दिए। बैठक में डीएसओ डॉ आर0 के गुप्ता, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ जी के मिश्रा, डब्ल्यूएचओ से डॉ अभिषेक कुलश्रेष्ठ, समस्त चिकित्सा अधीक्षक एवं सीएचसी/पीएचसी के एमओआईसी सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी गण एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

Show More

Related Articles

Close