Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

शिक्षा के साथ बच्चों को संस्कृति व नैतिकता का पाठ पढ़ाना भी जरूरी: अंजना सिंह

 

गाजियाबाद।  राजनगर एक्सटेंशन की के डब्ल्यू सृष्टि सोसायटी में संस्कार भारती के तत्वावधान में भारतीय संस्कृति विषय पर आधारित प्रश्नमंच लिखित प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डा वीणा मित्तल ने की ।कार्यक्रम के मुख्य वक्ता हेमंत वाजपेई ने विस्तार से संस्कार भारती के उद्धेश्यों को बताया । कार्यक्रम में विशेष आमंत्रित उपाध्यक्ष संस्कार भारती  अतुल प्रकाश भटनागर ने विस्तार से बताया कि  संस्कार भारती का कार्य कैसे महानगर में आगे बढ़ाया।  राजनगर एक्सटेंशन की  15 सोसाइटीज में कार्य हो रहा है। उसे व्यवस्थित रूप से बढ़ाया जाए। कार्यक्रम का प्रारंभ अनुराग त्यागी के ध्येय गीत से हुआ। उन्होने उसका हिन्दी में भी अर्थ बताया। योगाचार्य सतीश कुमार शर्मा ने विघार्थी जीवन में प्रारंभ से ही संस्कार देने की बात पर बल देने की बात कही। संस्कार प्रमुख अंजना सिंह एवं आयोजनकर्ता तपेश शर्मा व मोहित नारायण ने बताया कि आजकल शिक्षा का जो वातावरण है उसमें संस्कृति और नैतिकता पर अधिक ध्यान नहीं दिया जाता। बच्चों में संस्कार आएं व अपनी संस्कृति को समझें बस यही उद्देश्य है। प्रतियोगिता का आयोजन कक्षा 3 से कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों के लिए दो समूह में किया गया था। प्रथम द्वितीय व तृतीय पुरस्कारों के साथ सभी विद्यार्थियों को सांत्वना पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र दिए गए। बच्चों के अभिभावकों ने संस्कार भारती के प्रतियोगिता कार्यक्रम की काफी  सराहना की।कार्यक्रम में राजनगर एक्सटेंशन की विभिन्न सोसाइटीज के गणमान्य अतिथियों ने भाग लिया । यतीन्द्र चन्द्र कश्यव सौरभ कुलश्रेष्ठ, राम विश्वास, बिन्दू शेखर झा, कृष्ण गोपाल रस्तोगी,बलराम रावत , आशीष गुप्ता, महिमा त्यागी,सोनी सिंह आदि ने कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना बहुमूल्य योगदान दिया।

Show More

Related Articles

Close