Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

वीपी सिंह ने प्रतिष्ठा की लडाई बना लिया था बझेडा भूमि अधिग्रहण आन्दोलन को

जयपुर (सीरीज) रिलांयस पॉवर प्रोजेक्ट को लेकर हुए भूमि अधिग्रहण को लेकर बात इतनी बढ़ गई कि चीफ़ मिनीस्टर मुलायम सिंह यादव, अंबानी और वीपी सिंह आमने सामने आ गए। स्थानीय स्तर पर सत्यपाल चौधरी और देहात मोर्चा के साथी किसानो व अपनी टीम को उत्साहित रखने का काम बदस्तूर जारी रखे हुए थे। अब गाजियाबाद जिला प्रशासन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के निर्देश पर पूर्व पीएम वीपी सिंह की जिले में मूवमेंट को रोकने और देहात मोर्चा के साथियों की धर पकड में सक्रिय हो गया था। वीपी गाजियाबाद बझेडा में धरना स्थल पर जा रहे थे कि प्रशासन ने उन्हे हिंडन नदी पर रोक लिया और वसुंधरा गेस्ट हाउस ले जाया गया। यहां वीपी को बताया गया कि वे बझेडा नही जा सकते। देहात मोर्चा के साथी सतीश विधुडी वीपी सिंह के साथ थे,उनके साथ प्रशासन ने बद्सलूकी की। उधर धरना स्थल पर वीपी के रोकने की खबर पाते ही हंगामा हो गया,पुलिस प्रशासन और आन्दोलनकारी आमने सामने आ गए। पुलिस बद्सलूकी करने लगी तो कैप्टन विकास सिंह ने डिप्टी एस पी को थप्पड़ जड दिया।गुस्साई पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया, धरना स्थल पर लाठी चार्ज में बुजुर्ग और महिलायें बुरी तरह घायल हो गए। पुलिस की बर्बरता यहीं नही रुकी,उसने घरों में घुसकर महिलाओ और बच्चो तक को नही बख्शा, पूरे इलाके की नाकेबंदी कर दी गई । कुछ पत्रकारों को लेकर सत्यपाल चौधरी घायल अवस्था में ही बझेडा के घरों में पहुंचे और खबर तैयार कराई, वी पी सिंह को भी पूरे घटना क्रम की सूचना दी गई । सूचना मिलते ही वी पी सिंह बिफर पड़े,और पैदल ही बझेडा की और चल पड़े इससे माहौल गर्म हो गया वी पी सिंह को रोकने को लेकर वीपी की सुरक्षा में लगी एसपीजी और गाजियाबाद पुलिस का आमना सामना हो गया और गोली चलने की नौबत आ गई । प्रशासन को झुकना पड़ा और सत्यपाल चौधरी को घायल अवस्था में पुलिस लाईन में गिरफ्तार लोगो से मिलने,उनके उपचार और घर ले जाने की अनुमति दी गई, वीपी वापिस दिल्ली चले गए लेकिन चेतावनी दे गए कि वे फ़िर आयेंगे और मुलायम सिंह यादव की तोप को देखना चाहेंगे। वीपी ने ये भी कहा कि अब अधिगृहित जमीन का मुआवजा नही जमीन ही वापिस लेंगे। चौधरी साहब पुलिस लाईन पहुंचे और गिरफ्तार घायल साथियों का ईलाज करवाकर बझेडा ले गए। और साथी भी बझेडा पहुंचे और किसानो का होसला बढ़ाते हुए वीपी सिंह का मेसेज सुनाया।लोग दुगनी ताकत से खड़े हुए और एलान कर दिया कि ‘राजा’ वीपी सिंह के साथ हुए बर्ताव पर वे सरकार और अंबानी को छोड़ेंगे नही।

Show More

Related Articles

Close