Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

जिले के दर्जनों गांवों का विकास लटका अधर में

गाजियाबाद। जिले के दर्जनों गांव का विकास अधर में लटकता दिखाई दे रहा है। यह गांव अपनी नजदीकी नगर पालिकाओं में शामिल होने जा रहे हैं जिस कारण यहां ग्राम पंचायत खत्म हो जाएंगी और वहां पालिका परिषदों के साथ नए सिरे से चुनाव होंगे।
मुरादनगर, मोदीनगर और लोनी क्षेत्र में दर्जनों से भी अधिक गांव ऐसे हैं जो शहरी आबादी से मिल गए हैं अथवा उसके बीच में ही आ गए हैं। इन गांव को संबंधित नगर पालिका परिषद में मिलाने का कार्य लगभग पूरा हो गया है केवल सरकारी अधिसूचना जारी होना ही बाकी है। मोदीनगर में बेगमाबाद और बिसोखर गांव किस शहर से हैं कि इनके चारों तरफ मोदीनगर की शहरी आबादी है। इन दोनों के अलावा सीकरी कला और सीकरी खुर्द मोदीनगर की आबादी से एकदम मिल गए हैं। इन चारों गांवों को ई नगर पालिका परिषद में मिलाया जा रहा है। इसी तरह मुराद नगर पालिका परिषद में सरना, सहबिस्वा, जलालपुर असालतनगर आदि 4 गांव मिलाए जा रहे हैं।
नगर पालिका परिषद के आसपास के लगभग एक दर्जन गांव शहरी आबादी के बीच में आ गए हैं या फिर शहरी आबादी से एकदम सटे हुए हैं। जानकारी के अनुसार इन गांवों को मिलाकर लोनी में नगर निगम बनाने की कवायद चल रही है। तीनों निकाय क्षेत्रों में जो गांव मिलाए जा रहे हैं इनमें लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व ग्राम पंचायत के चुनाव कराए गए थे। ग्राम पंचायतों के चुनाव से पूर्व ही इन गांवों को नगर पालिका में मिलाने की सुगबुगाहट थी जिस कारण इन गांवों में विकास के लिए मिलने वाला धन पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंचा है। अब जबकि यह कवायद लगभग पूरी हो गई है तब ग्राम पंचायतों को मिलने वाला धन पूरी तरह बंद हो गया है। नगर पालिका के चुनाव से पहले ही ग्राम पंचायतों का अस्तित्व खत्म हो जाएगा। इसी के साथ यदि लोनी में नगर निगम का गठन होता है तो वहां महापौर और पार्षद और बाकी दोनों जगह पर चेयरमैन और सभासदों के लिए चुनाव होंगे।
एक तरफ ग्राम पंचायतों को मिलने वाला धन मिलने पर लगभग रोक लग गई है दूसरी तरफ निकाय चुनाव संपन्न होने के काफी दिनों बाद जाकर इन गांवों के लिए विकास पर सोचा जाएगा। नगर निगम और नगर पालिकाओं के बोर्ड गठित नहीं हो जाते तब तक यह गांव विकास के लिए तरसते रहेंगे। जिन लोगों ने ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ा था वह खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं क्योंकि उनका कार्यकाल 2 साल भी पूरा नहीं हो पाएगा।

Show More

Related Articles

Close