Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

सूदखोर की प्रताड़ना से तंग आकर ऑटो चालक ने दी जान ।

गाजियाबाद। समय पर ब्याज न मिलने पर सूदखोर ने जबरन ऑटो छीन लिया। ऐसे में कमाई का एकमात्र जरिया भी बंद होने से चालक तनाव में आ गया। नतीजन पीड़ित ने अपनी जिंदगी को खत्म कर लिया। इस संबंध में पुलिस से शिकायत की गई है।

महंगा पड़ी 10 हजार की उधारी
पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। उधर, चालक की मौत के बाद से पूरे परिवार में कोहराम मचा है। गाजियाबाद जनपद के मोदीनगर थाना क्षेत्र में यह मामला प्रकाश में आया है। पुलिस के मुताबिक दौसा बंजारपुर गांव में भारत भूषण का परिवार रहता है। वह पेशे से ऑटो चालक था। ऑटो चलाकर वह अपना एवं परिवार का गुजारा कर रहा था।
भाई मनोज कुमार ने पुलिस को बताया कि घरेलू जरूरत की वजह से भारत ने कुछ समय पहले ब्याज पर 10 हजार रुपए लिए थे। बदले में सूदखोर ने कागजों में ऑटो गिरवी रखवा लिया था। आर्थिक तंगी के कारण वह पिछले माह के ब्याज का भुगतान नहीं कर पाया। आरोप है कि ब्याज राशि न मिलने पर सूदखोर ने जबरन ऑटो छीन लिया था।

बंद हो गए आजीविका के रास्ते
इसके चलते भारत की मुश्किलें और ज्यादा बढ़ गई। परिवार की आजीविका का साधन न रहने से वह तनाव में रहने लगा। संकट से उबरने का कोई रास्ता दिखाई न देने पर भारत ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। हालत खराब होने पर उसे आनन-फानन में नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दरम्यान उसकी मौत हो गई।

मृतक के भाई मनोज कुमार ने इस सिलसिले में पुलिस से शिकायत कर सूदखोर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है। पुलिस का कहना है कि विभिन्न बिंदुओं को ध्यान में रखकर विवेचना चल रही है। जांचोपरांत उचित कार्रवाई की जाएगी। गाजियाबाद में सूदखोरों की मनमानी के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close