Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

गौ तस्करों से मुठभेड़ में सिपाही को लगी गोली, 3 तस्कर भी जख्मी

गाजियाबाद। आज तड़के विजय नगर थाना क्षेत्र में पुलिस और गौ तस्करों के बीच मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ में गोली लगने से 3 गौ तस्कर घायल हुए हो गए जबकि दीपक नामक सिपाही मुठभेड़ में गोली जख्मी हो गया। पुलिस के मुताबिक सिद्धार्थ विहार की जल निगम चौकी क्षेत्र में पुलिस देर रात चेकिंग कर रही थी। तभी पुलिस को सूचना मिली कि एक से सिल्वर रंग की स्कोर्पियो कार में कुछ तस्कर एक गाय को बांधकर ले जा रहे हैं। पुलिस ने जब उनका पीछा किया तो उनकी कार अनियंत्रित होकर एक पेड़ से टकरा गई। पुलिस ने गौ तस्करों को सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जिसमें दीपक नाम का सिपाही घायल हो गया। जवाबी कार्रवाई में तीनों तस्करों के पैर में गोली लगी है। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इन तस्करों की शिनाख्त मेरठ के फलावदा के रहने वाले जीशान और मुरादनगर के रहने वाले सद्दाम और कासिम के तौर पर हुई है। इनके खिलाफ पहले भी गौ तस्करी के आधा दर्जन मुकदमे दर्ज है। पुलिस ने गाया को गौशाला भेज दिया गया है। एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया है कि इन तस्करों के पास से गौ तस्करी में इस्तेमाल होने वाले सभी उपकरण बरामद किए गए हैं। सबसे अहम खुलासा ये हुआ है कि यह पशुओं को नशे का इंजेक्शन देकर पहले बेहोश करते थे और फिर उन्हें जबरन रस्सी से बांधकर स्कॉर्पियो गाड़ी की डिग्गी में बांध कर डाल देते थे। फिर कोई सुनसान इलाका देखकर वहां अवैध कटान करते थे। गौ तस्करों के कब्जे से तमंचे, बड़े चाकू, कुल्हाड़ी और रस्सा समेत अन्य उपकरण भी बरामद हुए हैं।

क्या कहते हैं एसपी सिटी निपुण अग्रवाल
विजयनगर इलाके में सिद्धार्थ विहार और हिंडन खादर के बीच में पिछले दिनों गोवंश के अवशेष मिले थे। जिसके बाद हिंदूवादी संगठनों ने थाने पर गौ तस्करों के खिलाफ कार्रवाई न करने को लेकर जमकर हंगामा भी किया था। मामले ने तूल पकड़ा था और इस संबंध में हिन्दू संगठन और बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने संगठन से शिकायत भी की थी। दूसरी तरफ पुलिस तभी इस प्रकार के घटना को रोकने में जुट गई थी, उसी के फल स्वरुप सिद्धार्थ विहार के खाली पड़े इलाके में देर रात भी गश्त लगातार की जा रही थी। उसी के फल स्वरुप गौ तस्करों के साथ यह मुठभेड़ हुई है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close