Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

हिंदू संगठनों ने गौशाला में आग लगने की घटना की जांच कराने की मांग की

श्रीकृष्ण गौशाला सेवा ट्रस्ट कनावनी व हिंदू संगठनों ने 11 अप्रैल को गौशाला में लगी आग की घटना की जांच की मांग की है। साथ ही दोषियों को कडी सजा दिए जाने की मांग की है। किसान सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अवनीत पंवार ने कहा कि 11 अप्रैल को गौशाला में लगी आग से 41 गायों की मौत हो गई थी। इनमें 39 गायों की मौके पर व दो गायों की मौत बाद में हुई थी।

जिस स्थान पर गौशाला है, वहां पर नगर निगम द्वारा कूडा डाला जा रहा था, जिससे रास्ता बंद हो जाने से आने-जाने में दिक्कत हो रही थी व गंदगी फैल रही थी। इसकी शिकायत डीएम से की गई थी और उन्हें ज्ञापन भी दिया गया था, मगर कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। इसके बाद से गौशाला के संचालक सूरज कुमार को गौशाला छोडकर भाग जाने व जान से मारने की धमकी वाले फोन आने शुरू हो गए।
11 अप्रैल को गंदगी हटवाने व रास्ते को साफ करवाने की मांग को लेकर डीएम को सम्बोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को दिया गया। डीएम कार्यालय से बाहर निकलते ही फोन आया कि झुग्गियों में आग लग गई है और आग गौशाला तक पहुंचने वाली है। इस पर सभ्ीा तुरंत गौशाला पहुंचे तो तब तक सब कुछ खत्म हो चुका था। आग से गौशाला के साथ 39 गायों की मौत मौके पर दो की मौत बाद में हुई। उन्होंने मामले की जांच कराकर दोषियों को सजा दिए जाने की मांग की।
भाजपा के वरिष्ठ नेता पंकज त्यागी ने घटना की जांच सीबीसीआईडी से कराने की मांग की। भारतीय हिन्द फ़ौज राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव सक्सेना ने कहा कि आग से 41 गायों की नहीं बल्कि हमारी 41 माताओं की मौम हुई है। अतः मामले की जांच कराकर दोषियों को सख्त सजा दी जाए।  गउ रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद नागर, गउशाला के संचालक सूरज कुमार आदि भी मौजूद थे।
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close