Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

यहां कब चलेगा बाबा का बुलडोजर तहसील कर्मियों की मिलीभगत से बेशकीमती सरकारी जमीन भू माफियाओं के कब्जे में

मुरादनगर। यहां भू माफियाओं पर कब चलेगा बाबा का बुलडोजर क्षेत्र में भू माफिया करोड़ों नहीं अरबों खरबों रुपए कीमत की सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा जमाए हुए हैं। कहीं सरकारी जमीन पर मार्केट बन रही हैं कुछ स्थानों पर सरकारी जमीनों पर बाउंड्री वाल कर माफियाओं ने अपने कब्जे में लिया हुआ है। इतना ही नहीं तहसील तथा भू माफियाओं की मिलीभगत के कारण सरकारी जमीन बिक चुकी है जिनकी रजिस्ट्री ऐसे ऐसे लोगों के नाम करा दी है जो एक अपना आशियाना बनाने की हसरत दिल में लिए हुए हैं। क्षेत्र में जीडीए का बुलडोजर आए दिनों छोटी मोटी कालोनियां काटने वाले डीलरों तथा वहां मकान बनाने वालों पर चलता रहता है लेकिन भू माफियाओं द्वारा अवैध रूप से कब्जे में ली गई भूमि और उस पर हुए निर्माण जीडीए के अधिकारियों कर्मचारियों को भी नहीं दिखाई देते या फिर सब कुछ जान पूछ कर किसी लालच के कारण उन्हें अनदेखा किया जा रहा है। लोगों द्वारा सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जों के बारे में कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराते हुए सरकारी संपत्ति मुक्त कराने की गुहार समस्त सबूतो सहित लगा चुके हैं। अधिकारियों को इस बारे में पूरी जानकारी है खासकर तहसील स्तर पर लोगों द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री उच्चाधिकारियों को इस बारे में सरकारी भूमि पर माफियाओं के कब्जे के साक्ष्यों सहित अवगत कराया है लेकिन उच्चाधिकारियों के आदेशों को भी तहसील के कर्मचारी भू माफिया ठेंगा दिखा रहे हैं। इतना ही नहीं सरकारी जमीनों पर कब्जे कर माफियाओं ने जमीन को अपनी बताते हुए फर्जी तरीके से प्लाटिंग कर दी और वहां मकान बन आबादी भी हो गई और धीरे-धीरे मकानों संख्या बढ़ रही है ।अभी तहसील कर्मी माफिया फाइलों को दबाए हुए हैं लेकिन जब भी ईमानदारी से गायब हुई सरकार जमीनों को ढूंढा जाएगा वहां पूरी आबादी कालोनिया बसी मिलेंगी। भू माफिया संबंधित विभागों के कर्मचारी अधिकारी हाथ नहीं आएंगे और बेचारे गरीब लोगों के मकानों दुकानों पर बुलडोजर चलेंगे। एक व्यक्ति ने बताया कि वह जनहित में सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जों की शिकायत कई बार तहसील से लेकर लखनऊ तक कर चुके हैं उच्चाधिकारी तहसील कर्मियों से कार्रवाई के लिए कहते हैं

लेकिन कर्मचारी अपनी मिलीभगत के कारण उच्चाधिकारियों को भी गलत रिपोर्ट भेजकर भ्रमित कर रहे हैं ।हालात यहां तक कि हैं की भू माफियाओं के पास दूसरे स्थान पर 200 गज जमीन थी वहां वह घपले कर कई कई हजार गज के भूखंड भेज चुके हैं और उनका यह कार्य अब भी धड़ल्ले से चल रहा है। कुछ जमीनों की नाप हुई और उन्हें सरकारी मानते हुए चिन्हित भी किया गया लेकिन उन्हें अभी तक प्रशासन ने अपने कब्जे में नहीं लिया है और भूमाफिया अपना खेल करने में लगे हुए हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close