Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

आबकारी विभाग ने फिर मारे ताबड़-तोड़ छापे, शराब माफिया में हड़कंप

शराब माफिया के खेल को बिगाडऩा को संघन छापेमारी खोड़ा कॉलोनी, विजय नगर, कांशीराम कॉलोनी और सिद्धार्थ विहार के आस-पास उन क्षेत्रों में सघन चेकिंग अभियान चलाया

गाजियाबाद। जनपद में अवैध शराब का निर्माण, बिक्री एवं परिवहन रोकने के लिए आबकारी विभाग को दिन-रात मशक्कत करनी पड़ रही है। कोई तीज-त्यौहार हो या आम दिन इससे विभाग को कोई खास फर्क नहीं पड़ता। विभाग का मकसद सिर्फ शराब माफिया के खेल को बिगाडऩा है। टीम वर्क से काम होने के कारण नतीजे भी अच्छे सामने आ रहे हैं। इसी क्रम में आबकारी विभाग की टीमों ने कुछ संवेदनशील क्षेत्रों में सघन छापेमारी कर कार्रवाई की। खोड़ा कॉलोनी, विजय नगर, कांशीराम कॉलोनी और सिद्धार्थ विहार के आस-पास उन क्षेत्रों में सघन चेकिंग अभियान चलाया गया, जहां झोपड़पट्टी में अवैध शराब का स्टॉक और बिक्री होने की आशंका रहती है। टीम को देखकर बस्ती में भी हड़कंप मच गया। लोग भाग खड़े हुए।
आबकारी आयुक्त के निर्देश पर गाजियाबाद जनपद में निरंतर कार्रवाई की जा रही है। आबकारी विभाग द्वारा अवैध शराब की बिक्री एवं परिवहन पर पूर्णत: अंकुश लगाने के लिए चलाए जा रहे प्रवर्तन अभियान के क्रम में अखिलेश वर्मा आबकारी निरीक्षक सेक्टर-1, रमाशंकर सिंह आबकारी निरीक्षक क्षेत्र-2, टी.एस. ह्यांकी आबकारी निरीक्षक सेक्टर-2, आबकारी निरीक्षक सेक्टर-4 आशीष पांडेय, त्रिवेणी प्रसाद मौर्य आबकारी निरीक्षक सेक्टर-5, अरुण कुमार की संयुक्त टीम ने आबकारी स्टाफ के साथ खोड़ा कॉलोनी के अलावा विजय नगर थानांतर्गत झोपड़पट्टी कांशीराम कॉलोनी, सिद्धार्थ विहार, हिंडन खादर क्षेत्र आदि स्थानों में दबिश दी गई। इसके अलावा ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे पर स्थित डासना चेक पोस्ट पर रोड चेकिंग की गई। दबिश व रोड चेकिंग के दौरान किसी प्रकार की अवैध मदिरा की बरामदगी नहीं हुई। आबकारी अधिकारी राकेश सिंह का कहना है कि जनपद में कई इलाके ऐसे हैं जहां दूसरे प्रदेशों से शराब लाकर जमा की करने की संभावना रहती है। ये लोग दिल्ली, हरियाणा से शराब लेकर आते हैं और यहां बेचते हैं। जब शराब की दुकानें बंद हो जाती है तो ये तस्कर ज्यादा रूपए कमाने के लालच में अवैध शराब की तस्करी करते है। जिन पर कार्रवाई के लिए आबकारी विभाग दिन-रात सतर्कता बरत रहा है। विभाग को इससे कोई मतलब नहीं है कि कोई पर्व विशेष या खास दिवस है। विभाग का मकसद शराब माफिया के मंसूबों पर पानी फेरना है। इसमें सफलता भी मिल रही है। उन्होंने बताया कि आगे भी इस प्रकार की कार्रवाई जारी रहेगी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close