Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

स्वास्थ्य विभाग ने फिर से मृतका को लगाई कोविड वैक्सीन

स्वास्थ्य विभाग ने फिर से मृतका को लगाई कोविड वैक्सीन
इससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं
गाजियाबाद। वैक्सीनेशन के मामले में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाहियों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। विभाग की ओर से लगातार ऐसे लोगों का वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र जारी किया जा रहा है, जिनकी मौत हो चुकी है। ऐसा तब हो रहा है जब सूबे के स्वास्थ्य राज्यमंत्री का गृह जनपद गाजियाबाद है। अब विभाग की ओर से एक और ऐसी महिला को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने का दावा किया है, जिनका देहांत नवंबर में हो चुका है।
दिल्ली गेट स्थिति रोगन ग्रान मोहल्ले में रहने वाले चंद्रपाल सक्सैना की पत्नी रानी सक्सैना (39) का निधन 17 नवंबर को बीमारी के कारण हो गया था। उन्हें वैक्सीन की पहली डोज अगस्त में लगी थी। मंगलवार की शाम को चंद्रपाल के मोबाइल पर मैसेज आया कि रानी सक्सैना को वैक्सीन की दूसरी डोज लगा दी गई है। मैसेज देखकर चंद्रपाल हैरान रह गए। मैसेज में वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र डाउनलोड करने के लिए लिंक भी आया था। चंद्रपाल ने लिंक खोलकर देखा तो पत्नी के नाम से वैक्सीन की दोनों डोज लगने का प्रमाण पत्र था। जिसमें पहली डोज 3 अगस्त 2021 को और दूसरी डोज 1 फरवरी 2022 को लगाया जाना दर्शाया गया है। वैक्सीन कोटगांव पीएचसी पर लगाई गई है। चंद्रपाल सक्सैना का कहना है कि उनकी पत्नी का देहांत 17 नवंबर को हो गया था फिर विभाग ने उन्हें वैक्सीन की दूसरी डोज कैसे लगा दी। उन्होंने इस मामले में सीएमओ और स्वास्थ्य राज्यमंत्री से शिकायत करने की बात कही है। चंद्रपाल ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में वैक्सीन को लेकर कोई बड़ा घोटाला चल रहा है जिसके चलते विभाग ऐसे लोगों को भी वैक्सीन लगाना बता रहा है जिनका देहांत हो चुका है। इस मामले की गहनता से जांच होनी चाहिए और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। इस मामले में जब जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज अग्रवाल से बात करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन पिक नहीं किया।
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close