Breaking Newsइंटरव्यूउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

कांग्रेस मुद्दों और विचारधारा की लड़ाई लड़ती है, जुमलों की नहीं: सौरभ राय

भाजपा कार्यकाल में साहिबाबाद में विकास नहीं हो पाया

आप अभी तक
गाजियाबाद। कांग्रेस में सोशल मीडिया के कोआर्डिनेटर सौरभ राय ने आप अभी तक के साथ बातचीत में कहा कि कांग्रेसी मुद्दों और विचारधारा की लड़ाई लड़ती है भाजपा की तरह जुमलो की बरसात नहीं करती। साहिबाबाद क्षेत्र के संबंध में उन्होंने कहा कि यहां भाजपा के कार्यकाल में उतना विकास नहीं हो सका है जितना कि होना चाहिए था।

सौरभ राय ने बातचीत के दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश का चुनाव भारत की राजनीति में नया अध्याय लिखेगा। पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने मातृशक्ति को लेकर एक नया अध्याय लिखा है। भारतीय राजनीति में पहली बार महिलाओं को 40 फ़ीसदी टिकट दिए जाने की न केवल घोषणा की गई बल्कि उसे अमल में भी लाया जा रहा है । प्रियंका गांधी की घोषणा के बाद महिलाओं को लेकर सपा से लेकर भाजपा तक में श्रेय लेने की होड़ लग गई। सच्चाई यह है कि भाजपा के शासन काल में महिलाओं के साथ जो अन्याय हुआ है वह एकदम सामने हैं। शाहजहांपुर, उन्नाव और हाथरस में शर्मनाक कांड हुए और भाजपा सरकार मुंह सिले बैठी रही। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने इन सभी मुद्दों पर आगे बढ़ कर विरोध जताया जिसके बाद कुछ फैसले लिए गए।
सौरभ राय का कहना था कि मोदी जी अपनी जान को खतरा तभी बताते हैं जब कोई भी चुनाव लड़ा जाता रहा होता है। ऐसा ही है पंजाब में उन्होंने किया है। राहुल गांधी इस तरह की राजनीति नहीं करते, उन्होंने यदि एक बार कह दिया होता कि उनकी जान को खतरा है तो देश के लाखों युवा खड़े हो गए होते।
एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी को लेकर उन्होंने कहा कि विश्व उन्हें एक संभावना युक्त नेता मानता है। समय आने पर यह बात साबित भी होगी। कॉन्ग्रेस कभी भी मौका परस्ती और सांप्रदायिकता की राजनीति नहीं करती। ऐसा किया होता तो कांग्रेसी आज देश के कई राज्यों के साथ-साथ केंद्र में भी सत्ता में होती।
अमर जवान ज्योति बुझाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का प्रयास है कि कांग्रेश कार्यकाल की यादों को मिटा दिया जाए लेकिन यहां वह बड़ी गलती पर हैं। भले ही किताबों से इतिहास बदल दिया जाए या नई संसद बना दी जाए, कांग्रेस को खत्म नहीं किया जा सकेगा। कांग्रेश एक आंदोलन और विचारधारा है जो सतत ढंग से आगे चल रही है।
स्थानीय स्तर पर साहिबाबाद विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रही संगीता त्यागी के बारे में उन्होंने कहा कि उनके पति कांग्रेस के वरिष्ठ नेता थे जिनकी विचारधारा को लेकर संगीता त्यागी चुनाव लड़ रही हैं। सौरभ राय का कहना था कि वे साहिबाबाद क्षेत्र में ही रहते हैं इसलिए कह सकते हैं कि यहां जितना विकास होना चाहिए था उतना नहीं किया गया। दिल्ली से एकदम सटा क्षेत्र होने के बावजूद यहां शिक्षा और चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह फेल है। जिले में केवल एक सरकारी अस्पताल एमएमजी है जिसकी भी बुरी हालत है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि स्वर्गीय राजीव त्यागी की पत्नी संगीता त्यागी को टिकट दिया जाना प्रियंका गांधी का अच्छा निर्णय है और समय इस बात को साबित भी करेगा। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि देश के 5 राज्यों में हो रहे चुनाव का परिणाम सकारात्मक होगा जो देश की राजनीति में बदलाव लाएगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close