Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

भाजपा प्रत्याशी का क्षेत्र में हो रहा अंदर खाने विरोध 

धौलाना से भाजपा प्रत्याशी धर्मेश तोमर को लेकर मतदाताओं में आक्रोश 

पूर्व की ऑडियो और वीडियो को लेकर पनप रहा आक्रोश

भाजपा प्रत्याशी धर्मेश तोमर की एक सभा की वीडियो जमकर हो रही वायरल

गाजियाबाद । धौलाना विधानसभा सीट इस बार फिर हॉट सीट बनकर उभर रही है । इस सीट को लेकर जहां प्रदेश सरकार भी सतर्क और असहज महसूस कर रही है तो वही भाजपा के प्रत्याशी धर्मेश तोमर को प्रत्याशी बनाने के बाद भाजपा के कार्यकर्ताओं में आक्रोश पनप रहा है। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि काफी समय से यहां से तैयारी कर रहे वाईपी सिंह और रमेश चंद तोमर सहित आधा दर्जन से अधिक संभावित प्रत्याशियों को टिकट न देकर धर्मेश तोमर को प्रत्याशी बनाने पर उनके समर्थक अब आर-पार की लड़ाई लड़ने के मूड में दिखाई दे रहे हैं।

गौरतलब है कि धौलाना विधानसभा सीट 2012 में मोदीनगर विधानसभा से कटकर हापुड- गाजियाबाद की आंशिक सीट के तौर पर परिसीमन के चलते बनाई गई थी। धौलाना विधान सभा बनने के बाद 2012 में सपा के प्रत्याशी धर्मेश तोमर ने यहां से जीत का परचम लहराया था और 2017 के विधानसभा चुनाव में वर्तमान गठबंधन प्रत्याशी असलम चौधरी ने बसपा प्रत्याशी के तौर पर यहां से भाजपा के प्रत्याशी को चुनाव में शिकस्त देकर जीत का परचम लहराया था। इस बार गठबंधन के प्रत्याशी के तौर पर असलम चौधरी, भाजपा के प्रत्याशी के तौर पर धर्मेश तोमर, बसपा के प्रत्याशी के तौर पर बासित प्रधान और एआईएमआईएम के प्रत्याशी के तौर पर हाजी आरिफ ताल ठोक रहे हैं। वहीं भाजपा प्रत्याशी धर्मेश तोमर की बात की जाए तो भाजपा प्रत्याशी की एक ऑडियो जो भाजपा नेताओं को अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए वायरल हो रही है, तो वहीं भाजपा प्रत्याशी द्वारा एक सभा में एससी के मतदाताओं के बारे में भी अपशब्द का प्रयोग किया गया था। जिसको लेकर उनके खिलाफ काफी आक्रोश तो पनप रहा है बल्कि भाजपा समर्थक भी अब उनसे किनारा करने के मूड में दिखाई दे रहे हैं। इसी कड़ी में कई गांव में मीटिंग की गई और भाजपा प्रत्याशी को हराने की रणनीति पर विचार वमर्श किया गया है । भाजपा समर्थक सूत्रों के अनुसार धौलाना विधानसभा सीट पर धर्मेश तोमर का अपना रुतबा रहा है और वह किसी को कुछ नहीं मानते। यहां तक की वह बेईज्जती कर भी उन्हें वापस भेज दिया करते थे । किस वजह से उन्हें भाजपा ने प्रत्याशी बना दिया तो इस सीट पर नाराज भाजपा कार्यकर्ता अब भाजपा प्रत्याशी के प्रति आक्रोश को देखते हुए उन्हें हराने का कार्य करेंगे, यानी कि पूर्व की ऑडियो और वीडियो भी आपस में ग्रुप में चला कर सोशल मीडिया पर वायरल कर भाजपा प्रत्याशी की नैया डूबने की कगार पर पहुंचाने का कार्य समर्थक कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि एक समाज के लोगों द्वारा उनकी एक मीटिंग क्षेत्र में कराने की बात चल रही थी। जब भाजपा प्रत्यासी ने समर्थकों से पूछा कि वहां पर ज्यादा वोट किसके हैं। तो समर्थकों ने कहा कि बराबर बराबर वोट है तो उन्होंने कहा कि फिर मेरी मीटिंग कराने का क्या फायदा चलो जाओ यहां से? इस बात की भी चर्चा जोरों पर चल रही है, यानी कि अपने एटीट्यूट और समर्थकों की अनदेखी से भाजपा प्रत्याशी कैसे नैया पार लगाएगी

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close