Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

साहिबाबाद सीट पर सपा के टिकट के लिए घमासान

कांग्रेस छोड़कर सपा में गए अमरपाल शर्मा को लग सकता है झटका

आप अभी तक
गाजियाबाद। देश में सबसे अधिक मतदाताओं वाली सीट साहिबाबाद से चुनाव लड़ने के लिए समाजवादी पार्टी के दो दिग्गजों में घमासान की हालत है। कांग्रेस छोड़कर सपा में गए अमरपाल शर्मा को चुनाव के इस काल में तेज झटका लग सकता है।
गौरतलब है कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा नेता रामदुलार यादव के पुत्र एडवोकेट वीरेंद्र यादव का साहिबाबाद क्षेत्र से चुनाव लड़ना लगभग तय था। उन्होंने चुनाव की तैयारी भी कर दी थी लेकिन अंत समय पर उनका टिकट कट गया। रामदुलार यादव उन नेताओं में से हैं जो प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निकटतम सहयोगी राजेंद्र चौधरी से लंबे समय से जुड़े रहे हैं। रामदुलार यादव राजेंद्र चौधरी के बीच राजनीति से हटकर काफी गहरे संबंध हैं। दोनों के इन संबंधों को देखते हुए माना जा रहा था कि एडवोकेट वीरेंद्र यादव इस बार साहिबाबाद से सपा प्रत्याशी होंगे। इसी बीच पिछले दिनोंपूर्व विधायक अमरपाल शर्मा कांग्रेश छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। माना जा रहा है कि सपा में शामिल होने का उनका दाव इस क्षेत्र से विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए चला गया था। अब जानकारी मिल रही है कि रामदुलार यादव भी अपने पुत्र एडवोकेट विरेंद्र यादव के लिए टिकट पाने पर अड़े हुए हैं। दूसरी तरफ अमरपाल शर्मा के समर्थन में भी सपा के काफी लोग हैं। अमरपाल शर्मा के समर्थकों का कहना है कि वीरेंद्र यादव के मुकाबले जातिगत संरचना अमरपाल शर्मा के पक्ष में है। इसके अलावा खोड़ा जैसे बड़े क्षेत्र में उनके समर्थकों की बड़ी संख्या है। सपा सूत्रों का कहना है कि राजेंद्र चौधरी एडवोकेट वीरेंद्र यादव को टिकट दिलाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं। साहिबाबाद सीट से टिकट अमरपाल शर्मा का होता है या वीरेंद्र यादव का यह समय बताएगा लेकिन इतनी बात तय है कि इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले इस सीट पर कड़ा संघर्ष होगा। भाजपा सूत्रों के अनुसार वर्तमान विधायक सुनील शर्मा पर ही भाजपा दांव लगाने जा रही है। कांग्रेश और बहुजन समाज पार्टी दोनों ही सीट पर बहुत मजबूत स्थिति में नहीं है। वर्ष 2017 के चुनाव में साहिबाबाद सीट पर जलालुद्दीन सिद्दीकी बसपा प्रत्याशी थे जबकि कांग्रेश से यहां पार्टी के पुराने नेता सिहानी निवासी त्यागी ने यहां से चुनाव लड़ा था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close