Breaking Newsउत्तर प्रदेशबात पते कीराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

चेतावनियों की भी परवाह नहीं

कोरोनावायरस की दो खतरनाक लहरों से देशभर में हुई बर्बादी और लोगों के सामने आई मुसीबतों के बावजूद भारतीय समाज सुधरने के लिए तैयार नहीं है। कोरोनावायरस की नई वैरीअंट ओमिक्रान के बढ़ते संक्रमण और वैज्ञानिक चेतावनियों को सुनकर भी असावधानी को देखते हुए यही कहा जा सकता है कि हम भारतीय लोग एक बार फिर बड़ी मुसीबत को आमंत्रित कर रहे हैं।यह नहीं भूलना चाहिए कि ओमिक्रान संक्रमण के मामले भारत में बढ़ रहे हैं, वह भी ऐसे समय जब देश के 5 राज्यों में चुनाव होने जा रहे हैं। वैज्ञानिक बार-बार चेतावनी दे रहे हैं कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। इस नए वेरिएंट को लेकर राहत की खबर केवल यही है कि यह भी गंभीर संक्रमण का कारण नहीं बन रहा है लेकिन कोई भी विशेषज्ञ यह कहने के लिए तैयार नहीं है कि इससे हमें निश्चिंत हो जाना चाहिए।वैसे भी दुनिया में जब तक सभी नागरिकों का टीकाकरण पूरा नहीं हो जाता और सब के शरीर में एंटीबॉडी विकसित नहीं हो जाते तब तक नए वेरिएंट से होने वाले संक्रमण के फैलने का खतरा बना ही रहेगा। इससे बचने का सबसे बड़ा उपाय यही है कि एहतियाती उपायों पर लगातार सख्ती के साथ पालन किया जाना चाहिए। इन वैज्ञानिक चेतावनी के बावजूद भारत में देखा जा रहा है कि लोगों ने मास्क पहनना छोड़ दिया है और शादी व विवाह आदि समारोहों में खूब भीड़ जुट रही है जहां न केवल फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है और न ही चेहरों पर मास्क नजर आते। कुछ लोगों के चेहरे पर मास्क होता भी है तो वह ठोड़ी पर लटका नजर आता है। सेनीटाइज करने की जरूरत भी लोग भूल गए हैं। इस असावधानी को देखते हुए यही कहा जा सकता है कि भारतीय समाज एक बार फिर बड़ी मुसीबत को बुलावा दे रहा है। यह नहीं भूलना चाहिए कि कोरोना के नए वेरिएंट के मामले तेजी के साथ दुनिया भर में बढ़ रहे हैं जिनमें भारत भी है। पिछली बार पश्चिम बंगाल और अन्य राज्यों के चुनाव में जो असावधानी बरती गई थी, रैलियों में जो भीड़ उमड़ी थी उसकी कीमत देशवासियों को चुकानी पड़ी थी। अब बेशक नए संक्रमण के मामले काफी कम है फिर भी भारत सरकार और स्वास्थ्य एजेंसियां लोगों को आगाह कर रही है कि वे मुंह ढककर रखें। वैज्ञानिकों की चेतावनी है कि मास्क के इस्तेमाल का गिरता हुआ ग्राफ हमें महंगा पड़ सकता है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close