Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

जिलाधिकारी ने जिला पोषण समिति की ली बैठक

गाजियाबाद  जिला पोषण समिति की बैठक  कलेक्ट्रेट के महात्मा गॉधी सभागार में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह के निर्देशन में मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल की अध्यक्षता में आयोजित की गयी। जिसमें सभी संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। इस अवसर पर मण्डल समन्वयक, मेरठ मण्डल, मेरठ गरिमा सिंह द्वारा पी पी टी  के माध्यम से माह अक्टूबर, 2021 में हुयी बैठक में दिये गये निर्देश के क्रम में अनुपालन से अवगत कराया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि जनपद में निदेशालय बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार उत्तर प्रदेश लखनऊ द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित कुल 598 आंगनबाडी केन्द्रों के सापेक्ष 568 पोषण वाटिका निर्मित किये जाने का लक्ष्य था जिसके सापेक्ष जनपद के द्वारा लक्ष्य को प्राप्त कर लिया गया है। समीक्षा में कुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास केन्द्र भेजे जाने की समीक्षा की गयी जिसमें केवल 06 बच्चों को पोषण पुनर्वास केन्द्र रेफेर किया गया है जिस पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा कुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास केन्द्र भेजे जाने के लिए निर्देशित किया गया तथा आंगनबाडी कार्यकर्त्रियों एवं ए0एन0एम0 को एनिमिया, कुपोषित बच्चों को चिन्हित किये जाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान किये जाने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग एवं आई सी डी एस  विभाग को दिये गये। पोषण पुनर्वास केन्द्र पर केयर टेकर का पद रिक्त होने के कारण मुख्य विकास अधिकारी ने रिक्त पद को शीघ्र भरे जाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया। किशोरी बालिकाओं में आयरन टेबलेट का वितरण सुनिश्चित कराये जाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देश दिये गये कि आयरन टेबलेट का वितरण के लिए विकास खण्ड स्तर से मॉग पत्र लेते हुए आपूर्ति सुनिश्चत करायी जाये। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा किशोरी बालिकाओं को आयरन टेबलेट के साथ ही पोष्टिक आहार, हरे पत्तेदार सब्जियॉ, दालें एवं गेहॅू ज्वार, बाजरा तथा चना मिश्रित आटे का उपयोग करने की सलाह दी गयी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को ए एन एम  तथा सी एच ओ  के माध्यम से ई-कवच एप पर सूचनाएं फीड किये जाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया। सामुदायिक आधारित गतिविधियों में जनपद में कुल 1154 आंगनबाडी केन्द्रों पर अन्नप्राशन तथा गोदभराई कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा प्रत्येक माह कलैण्डर के अनुसार सामुदायिक गतिविधि आयोजित किये जाने के निर्देश दिये गये। इस अवसर पर बैठक में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी सहित पोषण अभियान के सहयोगी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close