Breaking NewsDelhiउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

सिक्ख गुरुओं के सेवा कार्यों व बलिदान को भुलाया नहीं जा सकता है- स्वामी रावल जी महाराज-

सरदार एस पी सिंह व गुरप्रीत सिंह रम्मी का किया सम्मान

 

 

ग़ाज़ियाबाद – स्वामी रावल जी महाराज ने करतारपुर साहिब गुरुद्वारे के दर्शन करके लौटने पर मौलाना आज़ाद एजूकेशन फांउडेशन के उपाध्यक्ष सरदार एस पी सिंह व कोरोना काल में आक्सीजन मैन से विख्यात सेवा करने के लिये खालसा हेल्प इंटरनेशनल के गुरप्रीत सिंह रम्मी को पटका पहना कर सम्मान किया। इस मौक़े पर बोलते हुए स्वामी रावल जी ने कहा कि सिक्ख गुरुओं के सेवा कार्यों व बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है, हिन्दू धर्म गुरुओं के इस आशीर्वाद के लिए सदैव उनका ऋणी रहेगा।

 

सरदार एस पी सिंह ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश की सरकार बिना किसी भेदभाव व तुष्टिकरण के विकास को प्राथमिकता दे रही हैं, जिसका लाभ समाज के सभी वर्गों को मिलेगा। करतारपुर कोरिडोर को पुनः दर्शनों के लिये खोलने पर सभी श्रद्धालु प्रधानमंत्री की इस पहल की प्रशंसा कर रहे हैं। गुरप्रीत सिंह रम्मी ने कहा कि गुरुनानक देव जी ने लंगर प्रथा आरम्भ की थी, कोरोनाकाल में लोगों को आक्सीजन की कमी हो रही थी, लोगों की जान बचाने के लिये हमने आक्सीजन का लंगर लगाया, जिसमें बिना किसी भेदभाव के पूरी टीम ने सेवा की। प्रशासन व लोगों के सहयोग से ही यह सम्भव हो सका था। इस मौक़े पर गुरुद्वारा कविनगर जी ब्लॉक के अध्यक्ष रविन्दर सिंह जौली व ज्ञानी राजिन्दर सिंह, गुरमीत सिंह, आतंकवाद विरोधी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष व अधिवक्ता हरप्रीत सिंह जग्गी, लोहिया नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष व दूधेशवर नाथ मन्दिर के सेवादार अजय चोपड़ा व लखबीर सिंह, सरफराज, सन्नी, गगन विहार आरडब्लूए के अध्यक्ष रघुनन्दन भारद्वाज आदि ने भी सरदार एस पी सिंह व गुरप्रीत सिंह रम्मी का सरोपा व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close