Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

सफाई सुरक्षा चैलेंज मे गाजियाबाद उत्तर प्रदेश में नंबर वन

लोन मेले से सफाई मित्रो को मिला फायदा,बढ़ चढ़ कर लिया सभी ने हिस्सा:महापौर

गाजियाबाद नगर निगम लगातार शहर में एक नया मुकाम हांसिल करता जा रहा है उसी के क्रम में सफाई सुरक्षा चैलेंज में भारत में छटे स्थान पर तथा उत्तर प्रदेश में पहले स्थान पर है गाजियाबादl

सफाई सुरक्षा चैलेंज
वर्ल्ड टॉयलेट डे 19 नवंबर 2020 को सफाई सुरक्षा चैलेंज लांच किया गया, जिसका उद्देश्य शहर में की जाने वाली सफाई सीवर सफाई या सेफ्टी टैंकों की सफाई के कार्यों में संसाधनों का अत्यधिक इस्तेमाल करना तथा मैनुअल सफाई को रोकना जिससे सफाई मित्रों के स्वास्थ्य में बढ़ोतरी होगी तथा उस दौरान होने वाली मृत्यु दर भी कम होगीl

माननीय महापौर आशा शर्मा तथा नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तवर के कुशल नेतृत्व में सफाई मित्रों की सुविधाओं को बढ़ाते हुए गाजियाबाद नगर निगम द्वारा नोडल ऑफिसर योगेंद्र यादव को जिम्मेदारी सौंपते हुए सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज हेतु कई कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसके फलस्वरूप आज गाजियाबाद का भारत में तथा उत्तर प्रदेश में एक उच्चतम स्थान प्राप्त हुआ हैl

सफाई सुरक्षा मित्रों हेतु उपलब्ध कराई गई सुविधाएं

नगर आयुक्त गाजियाबाद द्वारा बताया गया कि शहर में सफाई मित्रों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए सफाई मित्रों को सफाई करने हेतु उपकरण उपलब्ध कराए गए सफाई मित्रों को प्रॉपर ट्रेनिंग दी गई कि वह किस प्रकार उपकरणों का इस्तेमाल कर एक सही सफाई अपने आप को सुरक्षित रखते हुए शहर वासियों के हित में कर सकते हैंl सफाई मित्रों को सफाई करते समय पहनने हेतु ड्रेस उपलब्ध कराएगी ताकि जिन को पहनकर अपने शरीर को ढककर वह कार्य करने में सक्षम हो सकते हैं सफाई मित्रों को कम ब्याज दर लोन भी उपलब्ध कराया ताकि वह इक्विपमेंट खरीद कर अपना रोजगार बढ़ाने के साथ-साथ शहर को अच्छी सफाई व्यवस्था अपनी सुरक्षा के साथ दे सकते हैं, सफाई मित्रों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 19 नवंबर 2020 को सफाई सुरक्षा चैलेंज लांच किया गया 1 वर्ष पूर्ण होने पर 20 नवंबर 2021 को इसके परिणामों की घोषणा की गई जिसमें शहर गाजियाबाद को उत्तर प्रदेश में प्रथम पर घोषित किया गया है जोकि गाजियाबाद नगर निगम की अपनी महनत का एक रंग है जिसका पूरा श्रेय गाजियाबाद नगर निगम की सफाई मित्रों को जाता है माननीय महापौर आशा शर्मा जी के निर्देश के क्रम में सफाई मित्रों को दी गई सुविधा के साथ उन्होंने शहर को स्वच्छ बनाने का बेहतर कार्य किया हैl

माननीय महापौर जी द्वारा अवगत कराया गया कि सफाई मित्रों की सुविधाओं को प्राथमिकता पर लिया गया उनको किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो कार्य में किसी प्रकार की गंदगी को हाथ से ना साफ किया जाए इसका विशेष ध्यान गाजियाबाद नगर निगम द्वारा रखा गया जिसके फलस्वरूप आज भारत में छठा स्थान तथा उत्तर प्रदेश में प्रथम स्थान आने पर शहर वासियों को माननीय पार्षदों को तथा सफाई मित्रों को शुभकामनाएं प्रेषित की गई, लोन मिले का आयोजन उत्तर प्रदेश में सबसे पहले गाजियाबाद में किया गया जिसका फायदा सबसे ज्यादा गाजियाबाद की सफाई मित्रों को प्राप्त हुआ जो कि एक बहुत बड़ा उत्साह का विषय है उसके लिए भी माननीय महापौर जी द्वारा सफाई मित्रों को शुभकामनाएं प्रेषित की गईl

सफाई मित्रों के द्वारा कार्य करने के दौरान माननीय पार्षदों तथा गाजियाबाद नगर निगम अधिकारियों द्वारा बहुत ही अच्छे से मॉनिटरिंग का कार्य भी किया गया है ताकि सफाई मित्रों द्वारा हाथों से कार्य बिल्कुल ना किया जाए और मशीनों का अधिक से अधिक प्रयोग हो इस पर विशेष ध्यान दिया गया, शहर वासियों की समस्याओं के तत्काल समाधान हेतु 14420 कॉल सेंटर भी संचालित है जिसके द्वारा शहर की समस्याओं का समाधान किया जा रहा है

सफाई मित्रों को समय-समय पर प्रॉपर ट्रेनिंग दी गई उनको माननीय पार्षदों तथा अधिकारियों द्वारा जागरूक भी किया गया तथा आज ऐसी परिस्थिति है कि सफाई मित्रों को किसी भी प्रकार मैनुअल कार्य करने की आवश्यकता नहीं है मशीनों की संख्या बढ़ाई गई उनकी सुरक्षा का उनके परिवार की सुरक्षा का विशेष ध्यान गाजियाबाद नगर निगम द्वारा रखा गया जिसमें वन सिटी वन ऑपरेटर का कार्य में वाबैग कंपनी का भी सहयोग रहा है, क्षेत्रीय निवासियों का विशेष सहयोग गाजियाबाद नगर निगम को सफाई मित्रों को इस मुकाम को हासिल करने में रहा है तथा सभी बधाई के पात्र हैं गाजियाबाद नगर निगम को एक बहतर मुकाम पर पहुंचाने में सफाई मित्रों हेतु बढ़ती मशीनों की संख्या, उनको दी जाने वाली ट्रेनिंग उनको प्रॉपर यूनिफॉर्म उपलब्ध कराना उनको समय-समय पर जागरूक करने हेतु कार्यक्रम आयोजित करने विशेष माध्यम रहे हैं इसके फलस्वरूप भारत में छठे स्थान पर गाजियाबाद का नाम घोषित किया गया हैl

गाजियाबाद नगर निगम द्वारा सफाई मित्रों का आगे भी इसी प्रकार से विशेष ध्यान रखा जाएगा ताकि उनको कार्य में असुविधा ना हो और मैनुअल कोई भी कार्य उनके द्वारा ना कराया जा सके मशीनों का उपकरणों का अधिक से अधिक इस्तेमाल टैंक सफाई सीवर सफाई तथा मेनहोल इत्यादि के कार्य में किया जाएगाl शहर में 7 एसटीपी संचालित है जिनमें वाटर ट्रीटमेंट का कार्य अच्छी स्तर पर चल रहा है तथा कार्य बेहतर पाए जाने पर भी अच्छे अंक प्राप्त हुए हैंl

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close