Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीय

हलवाई करोड़पति रिस्तेदार लखपति कैसे बने-होगी उच्यस्त्रीय जांच ?

आप अभीतक संवाददाता भरथना I  नगर पालिका परिषद में पिछले चार सालों से शासन के धन की शुरू हुई लूटम-लूट और विकास कार्यो में बड़े पैमाने पर किये गए घोटालों की जांच कराने का आखिरकार भरथना के भाजपा सभासदों को ठोस भरोसा मिल ही गया।

जिसमे एक हलवाई और उसके गरीब रिस्तेदार कुछ ही समय मे करोड़पति और लखपति कैसे बने जांच में मुख्य आकर्षण होगा।

इस सम्बन्ध में विरिष्ठ भाजपा नेता डॉक्टर रामस्वरूप यादव के दिशानिर्देशन में प्रदेश के ईमानदार नगर विकास राज्यमंत्री महेश चन्द्र गुप्ता से लखनऊ भेंटकर लौटे निर्वाचित भाजपा सभासद मनोज गुप्ता मुन्नी और अंशू सिंह वर्मा ने बताया कि उन्होंने मंत्री महोदय को भरथना नगर पालिका परिषद में पिछले चार बर्षो में शासन से जनहित में विकास कार्यो के लिए भेजे गए करोड़ो रुपयों का बन्दरबांट कर लिया गया है। और इन चार बर्षो में नगर में विकास शून्य की स्तिथि में है। जिसके कारण नगर में विकास के नाम पर नगर क्षेत्र में भाजपा सरकार के प्रति आम जनमानस में आक्रोश फैल चुका है।

सभासद द्वय ने बताया कि उपरोक्त जांच कराये जाने के साथ यह भी जांच अति आवश्यक होनी है कि इतने कम समय मे एक हलवाई करोड़पति और उसके केई गरीब रिस्तेदार अचानक लखपति किस रास्ते से होगये हैं।

सभासदों की मानें तो उन्होंने मंत्री महोदय को उपरोक्त बिंदुओं की जांच कराये जाने के साथ लिखित प्रार्थना पत्र में आरोप लगाते हुए बताया कि एक हलवाई पर कुछ दिनों पूर्व एक नई मोटरसाइकिल लेने की हैसियत नही थी उसने चन्द समय मे लग्जरी गाड़िया कीमती बुलट मोटरसाइकिल पैत्रक गांव में आलीशान कोठी मुख्यालय पर नवीन कोठी का निर्माण चालू भरथना नगर में मैरिज होंम का निर्माण सहित आस-पास कृषि भूमि कैसे और कहाँ से खुद के पत्नी बच्चों और ससुरालीजनों सहित गरीब रिश्तेदारों मित्रों के नाम होगई,जिनकी जांच होना अति अनिवार्य है।
सभासद द्वय के अनुसार मंत्री महोदय को सौंपे गए भरथना नगर पालिका परिषद के भृष्टाचार और घोटालों की जांच के सम्बन्ध में मंत्री महोदय ने सभासदों को समय रहते जन्द से जल्द उच्यस्त्रीय जांच कराए जाने के साथ पार्टी की छवि लौटने के लिए घोटालों का सार्वजनिक पर्दाफास करने का ठोस भरोसा दिलाया है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close