Breaking Newsराष्ट्रीय

प्राइवेट अनियंत्रित बस ने पैदल चलते हुए राहगीरों को रोदा

बरेली। बरेली से एटा मार्ग शहर कासगंज के नदरई गेट चौराहे पर बड़ी प्राइवेट बस अनियंत्रण होकर सड़क के किनारे पैदल चलते हुए राहगीरों को रोदती हुई नदरई गेट चौराहा कासगंज से तीन नंबर रेलवे स्टेशन मार्ग आलोक डी0जे0 साउंड की दुकान में जा घुसी।
जिससे तीन राहगीरों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई और अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए।
जिलाध्यक्ष राष्ट्रीय लोकदल कासगंज शमीम अहमद अल्वी को एक्सीडेंट की जैसे ही जानकार मिली वह तुरंत मौके पर पहुंचे और स्थानीय नागरिकों तथा दुकानदारों से घटना की जानकारी ली और मृतक के परिवार वालों से मिलकर ढांढस बंधाया एवं संवेदना व्यक्त की और आलोक डी.जे साउंड वाले की दुकान पर पहुंच कर दुकानदार से बातचीत की उसने बताया की प्राइवेट बस अनियंत्रण होकर तथा पांच पैदल चलते हुए राहगीरों को रोदती हुई हमारी दुकान में जा घुसी बस को हमने अपनी दुकान की तरफ आते देख किसी तरह दुकान के अंदर घुस कर अपनी जान बचाई वरना हमारे साथ भी बड़ी घटना घटित हो सकती थी।
जिलाध्यक्ष शमीम अहमद अल्वी ने जन-तंत्र इलेक्ट्रिक मीडिया कासगंज के ब्यूरो चीफ देवेंद्र यादव से बातचीत करते हुए कहा कि कहा कि कासगंज शहर से बरेली मार्ग तथा वाकानेर चुंगी से एटा मार्ग पर सिक्स लाइन के बीच में डिवाइडर एक तरफ वाहन आने के लिए और दूसरी तरफ तरफ जाने के लिए बने हुए हैं और कासगंज के अंदर शहर में ना ही तो पैदल आम नागरिकों के लिए फुटपाथ बने हुए हैं और ना ही रोड के बीच में डिवाइडर बना हुआ है अगर रोड के बीच में डिवाइडर बना होता तो इतनी बड़ी घटना शायद घटित नहीं होती। जिलाध्यक्ष शमीम अहमद अल्वी ने उत्तर प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि एक्सीडेंट में मरने वाले मृतक के परिवार को 50-50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता तत्काल प्रभाव से दी जाएं और गंभीर रूप से घायल होने वाले व्यक्तियों को भी उचित से उचित मुआवजा दिया जाए।

साथ ही साथ राष्ट्रीय लोकदल स्थानीय प्रशासन तथा उत्तर प्रदेश सरकार से मांग करता है कि कासगंज शहर के अंदर पैदल राहगीरों के लिए सड़क के दोनों साइड में फुटपाथ तथा सड़क के बीचो बीच जल्द से जल्द एक तरफ आने वाले वाहनों के लिए दूसरी तरफ जाने वाले वाहनों के लिए डिवाइडर बनाएं जाए ताकि कासगंज वासीयो तथा पैदल चलने वाले राहगीरो और वाहन चलाने वालों को राहत मिल सके।

 

मुबीन अहमद(आप अभी तक)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close