Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयलोनीहमारा गाजियाबाद

लोनी क्षेत्र में बढ़ने लगी है यूपी विधानसभा 2022 चुनावी सरगर्मियां

यूपी विधानसभा 2022 के चुनाव को लेकर अब चुनावी सरगर्मियां तेज हो गई हैं ऐसे में चुनावी बिगुल भी एक तरफ बजता हुआ नजर आ चुका है। ऐसे में अब कई राजनीतिक पार्टियां जनता को लुभाने में लगी हुई है। एक तरफ आम आदमी पार्टी ने अपने सभी प्रत्याशियों को जल्द ही कई विधानसभाओं में घोषित कर दिया है लेकिन कुछ विधानसभा अभी बाकी है 2017 के चुनाव के आंकड़े के मुताबिक देखा जाए तो जनता इस बार अपना मत बड़ी ही सोच समझकर देंना चाह रही है। जनता ने बताया कि पहले मोदी लहर में दिया था वोट विधानसभा चुनावों को लेकर गाजियाबाद के लोनी की स्वीट का हाल फिलहाल काफी गर्म नजर आया है ऐसे में भाजपा सरकार को तो जनता पसंद कर रही है। लेकिन कुछ ग्रामीण क्षेत्रों कुछ ग्रामीण भाजपा सरकार का विरोध कर रहे है ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे किसानों खुल कर बताया कि इस बार योगी सरकार को करारा जवाब देना है। 11 महीने से भी ज्यादा किसानों को धरने पर बैठे हुए हो गए लेकिन सरकार के कान में जुह तक नही रेगी।

आपको बता दे कि गाजीपुर बॉर्डर हो या सिंधु बॉर्डर ऐसे तमाम बॉर्डर पर किसानों ने डेरा डाल रखा है अपने तीन बिल खत्म करने के लिए सरकार से माँग की है किसानों के नेता राकेश टिकैत ने बताया कि अगर सरकार तीनो कृषि बिल केंद्र सरकार माफ कर दे तो सभी बॉर्डर पर बैठे किसान धरना खत्म कर अपने घर चले जाएंगे जब तक बिल वापस नहीं होगा हम धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे।ओर इस बार विधानसभा चुनाव में करारा जवाब देने की बात कही गई।

बॉक्स………
एकतरफ किसानों के इस आंदोलन पर भाजपा सरकार पर काफी बड़ा झटका लगेंगा। क्योकि वर्तमान में भाजपा की सरकार से किसानों ने नाराजगी जताई है

बॉक्स……

ऐसे में उतर प्रदेश में होने जा रहे चुनाव को लेकर किसानों ने भाजपा को नकारा है वही 2022 की विधानसभा चुनाव को लेकर गाजियाबाद के लोनी विधानसभा की सीट का हाल जानने के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों से उनकी राय ली कि इस बार किसकी सरकार तब लोनी में रहने वाले ग्रामीण लोगो ने बातया की वर्तमान में भाजपा सरकार के विधायक से नाराज है। कुछ ग्रामीण गाँव के लोगो ने आरोप लगाया है कि आज तक वतर्मान विधायक ने कोई विकास कार्य नही कराया है सिर्फ झूठ और नफरत की राजनीति की है लोगो ने बताया कि लोनी के सिरोरा गाँव लोनी का सबसे आखरी गाँव है।आज तक लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर के पांव आज तक हमारे गांव में नहीं पड़े हैं सिरोरा के गाँव मे घनी बस्ती में रहने वाले लोगो की राय ली गई ग्रामीणों ने बातया की पिछले कई सालों में गाँव के लोग बिजली के करंट लगने से झुलस गए हैं।
कई बार शिकायत करने के बाद भी बिजली के नंगे तार घरों के सामने होकर निकले हुए है आज तक इस समस्या का समाधान नहीं हुआ है।
ग्रामीणों ने बताया कि कई बार बिजली के नंगे तारो से करंट लगने से पशुओं की भी जान जा चुकी है तो कई बार कई ग्रामीणों को भी करंट लग चुका है। जिसमें एक गांव में रहने वाले नवयुवक लड़के को भी करंट लगा जो कि लगभग 80परसेंट जल चुका है।जिसका आज भी इलाज अस्पताल में चल रहा है आज तक ये समस्या ऐसी की ऐसी है काफी मशक्कत के बाद करंट से झुलस गए पीड़ित को मुआवजा मिला है
वो भी कई पत्रकारो के द्वारा अखबार में छपने की खबर को लेकर संज्ञान लेते हुए प्रशासन ने सुध ली थी जिसके बाद आज तक ना तो कोई प्रशासन हमारे गांव की सुध लेता है ना ही कोई जनप्रतिनिधि सुध लेता है

बॉक्स.
यूपी विधानसभा चुनाव के बारे में ग्रामीणों ने बताया कि इस बार विकास पुरुष अनिल कसाना को मौका दिया जाएगा सिरोरा ग्राम वासियों ने खुलकर अपना समर्थन देते हुए अपनी वोट इस बार अनिल कसाना को देने की बात कही है ऐसे में भाजपा से अनिल कसाना को ग्रामीण जनता चुनना चाहती है अफजल पुर भूखेड़ी रिस्तल महमूदपुर धारीपुर शकलपुरा के लोग अनिल कसाना को इस बार पसंद कर रहे हैं।

बॉक्स
ग्रामीणों से पूछने पर पूर्व में रहे जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा कितना विकास कार्य आपके क्षेत्र में किया गया सवाल का जवाब देते हुए ग्रामीणों ने बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी मावी द्वारा आज तक कोई विकास कार्य नहीं किया गया उन्होंने बताया कि उन्होंने सिर्फ अपने ग्रामीण क्षेत्र में ही विकास कार्य किया है।

बॉक्स……..
टीला शहबाजपुर में ग्रामीण लोगों ने बताया कि इस बार भाजपा सरकार आनी चाहिए और लोनी में विधायक पद की सीट से परिवर्तन होना चाहिए आप को बता दे कि वर्तमान में भाजपा के गायक नंदकिशोर गुर्जर हैं उन्हें जनता इस बार दोबारा नही देखना चाहती है लोगो ने बताया कि समय पर परिवर्तन होना भी आवश्यक है

हालांकि कुछ लोगो ने मौजूदा विधायक को पसंद भी किया है लेकिन उनके द्वारा विकास कार्य ना होने की वजह से चिंता जताई है।

टीला शहबाजपुर में रहने वाले लोगो ने बताया कि इस बार उनके ही गाँव से तीन कैंडिडेट सामने है जिसको लेकर वह है अभी संकोच में है एक तरफ ईश्वर मावी के चेहरे के लिए उन्होंने साफ तौर से इंकार कर दिया है क्योंकि उनके परिवार से इस बार उनकी बहू को जनता ने जिला पंचायत सदस्य के लिए चुन लिया है वही कुछ ग्रामीण युवा लड़कों ने ईश्वर मावी को पसंद किया है उन्होंने कहा कि अगर भाजपा से उन्हें टिकट होता है तो उनका मत ईश्वर मावी को जाएगा
बॉक्स…..
टीला शाहबाजपुर गांव में रहने वाले मुस्लिम समाज के लोगो ने इस बार पूर्व चेयरमैन मनोज धामा को अपना विधायक चुनने के लिए कहां है ग्रामीणों का कहना है कि दिल्ली से सटे लोनी आज तक दिल्ली की तर्ज पर नहीं बन चुका है ऐसे में लोनी चेयरमैन रंजीता धामा और उनके पति मनोज धामा पूर्व में रहे चेयरमैन लोनी के कार्यों से जनता काफी खुश हैं उन्होंने लोनी के शहरी क्षेत्र में बहुत विकास किया है जिसे देख हम अपना विधायक 2022 में मनोज धामा को चुनना चाहते हैं उन्होंने बताया कि इस वर्तमान विधायक ने आज तक कोई भी लोनी में विकास कार्य नहीं किया है सिर्फ अपनी छलावा वाली राजनीति के अलावा।

टीला मेंन बाजार की बात करे तो घनी आबादी में बसा हुआ गाँव इस बार विधानसभा चुनाव को लेकर क्या सोचता है चुनावी हाल जाने के लिए हमारे संवाददाता टीला शाहबाजपुर गांव की मेन मार्केट में पहुंचे जहां पर मेन मार्केट की सड़क की हालत खस्ता नजर आई जिसे देख
लोगो से पूछताछ की सड़क न बनने की वजह क्या है गांव के लोगो ओर दुकानदारों ने बताया कि आज तक यह सड़क ऐसी की ऐसी ही पड़ी है ना तो यहां पर विधायक सुध लेने आए ना यहां पर प्रधान ने कोई सुध ली है ना ही यहां जिला पंचायत सदस्य ने इस सड़क को लेकर कोई सुध ली है।
यूपी 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर लोनी के टीला शाहबाजपुर गांव के मेन मार्केट में जनता से चुनाव को लेकर उनकी राय जानी तो उन्होंने वर्तमान विधायक को नकारा है उन्होंने बताया की आज तक लोनी में कोई विकास कार्य नही हुआ आज भी सडके ऐसी की ऐसी पड़ी है लोगो ने बताया कि अगर वो दिल्ली से लोनी फर्क नगर तक जाए तो उनके पूरे कपड़े धूल से भरे होते है उन्होंने साफ तौर से कहा है कि लोनी की सड़कें आज तक नही बनी है लोनी में कोई विकास कार्य नही हुआ है न कोई डिग्री कालेज बना न कोई बड़ा अस्पताल बस वादे कर के चले गए थे वतर्मान लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर

जनता ने बताया कि इस बार लोनी में परिवर्तन होगा जो विकास पुरुष होगा उसको चुना जाएगा उसको जिताया जाएगा लोनी में धूल भरी जिंदगी जी रहे हैं लोनी के लोग नाखुश नजर आए है दुकानदार लोगो ने अपनी एकतरफा राय रखी कि इस परिवर्तन चाहिए जो साफ छवि ओर जनता के हित मे कार्य करेगा उसको मौका दिया जाएगा।

Show More

Related Articles

Close