Breaking Newsउत्तर प्रदेशमेरठराष्ट्रीय

भगवान को खोजा नहीं जाता बल्कि पुकारा जाता है:कौशल जी महाराज

सरधना।रामलीला मैदान में चल रही राम कथा के चौथे दिन परम पूज्य श्री कौशल जी महाराज ने श्री राम के वन गमन के पश्चात की कथा का वर्णन किया उन्होंने बताया कि जब भगवान राम वन के लिए चले तो समस्त अयोध्यावासी उनके साथ हो लिए लाख समझाने के बाद भी वे वापस जाने के लिए तैयार नहीं हुए और फूट-फूट कर रोने लगे तब भगवान राम ने रात्रि विश्राम के लिए नदी किनारे ठहरने का निश्चय किया और सुबह अयोध्या वासियों के जगने से पहले प्रभु श्री राम उनको उनको सोता छोड़कर वन को चल दिए महाराज जी ने आदमी की कथा का वर्णन करते हुए कहा जो गंगा में स्नान करते हैं

वह लोग भाग्यशाली होते हैं और सरधना के लोग बड़े भाग्यशाली हैं जो नदी के किनारे ही पैदा हुए हैं पूज्य महाराज जी ने महाराजा हरिश्चंद्र की कहानी का वर्णन करते हुए कहा की राजा हरिश्चंद्र ने धर्म और सत्य की रक्षा के लिए अपना राज्य पत्नी पुत्र और स्वयं को त्याग दिया हमें उनके जीवन से प्रेरणा लेकर धर्म और सत्य का मार्ग अपना चाहिए आगे की कथा का वर्णन करते हुए महाराज श्री ने कहा की भगवान को खोजा नहीं जाता बल्कि पुकारा जाता है जो भक्त भगवान श्रीराम को दिल से पुकारते हैं प्रभु उनकी जरूर सुनते हैं इस दौरान मुख्य यजमान विधायक संगीत सोम ब्लॉक प्रमुख प्रीति सोम मूंग प्रधान, राजीव जैन,वीरेंद्र चौधरी,मोहित ठाकुर,दीपक शर्मा,सचिन खटीक,शेखर सोम,ठाकुर लाखन सिंह,ललित गुप्ता,आदि लोग उपस्थित रहे इस दौरान पंडाल श्रद्धालुओं से खचाखच भरा रहा आसपास के गांव से बस द्वारा हजारों की संख्या में लोग पहुंचे।

संवाददाता जावेद अब्बासी

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close