Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

उगते सूरज को अर्घ्य देने के साथ भी छठ माता के पर्व का समापन

महानगर में हिंडन के अलावा दर्जनों स्थानों पर बनाए गए थे घाट

आप अभी तक
गाजियाबाद। छठ माता का महापर्व आज उगते सूरज को अर्घ्य देने के साथ ही श्रद्धा और आस्था के सैलाब के बीच समाप्त हो गया। कल सुबह खरना के साथ श्रद्धालु महिलाओं ने 36 घंटे का निर्जल व्रत शुरू किया था। कल शाम व्रती महिलाओं ने प्रसाद रूपी भोजन तैयार करने के बाद डूबते सूर्य की पूजा अर्चना की थी।

 

छठ माता के इस महापर्व में भगवान भास्कर पूजा का विशेष महत्व है। छठ पूजा के लिए नगर निगम और प्रशासन ने व्यापक प्रबंध किए थे। महानगर में साठ से अधिक स्थानों पर घाट बनाए गए थे। सभी घाटों पर श्रद्धालु महिलाओं व पुरुषों की सुरक्षा के लिए पुलिस ने भी व्यापक प्रबंध किए थे। प्रशासन ने हिंडन और नोएडा नहर पर एनडीआरएफ की टुकड़ी भी तैनात की थी।

स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वी के सिंह की पुत्री मृणालिनी सिंह ने व्रतियों के ऊपर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की। इसके अलावा महापौर आशा शर्मा ने हिंडन नदी पर बनाए गए छठ घाटों पर पहुंचकर श्रद्धालुओं पर पुष्प वर्षा करने के साथ-साथ उन्हें छठ महापर्व की शुभकामना भी दी।

महापौर आशा शर्मा के अलावा महानगर के अनेक राजनीतिक लोगों ने श्रद्धालुओं के बीच पहुंचकर उन्हें छठ महापर्व की शुभकामना दी। आज उगते सूरज को अर्घ्य देने के साथ ही छठ महापर्व का समापन हो गया।

 

Show More

Related Articles

Close