Breaking Newsउत्तर प्रदेशराष्ट्रीयहमारा गाजियाबाद

कांग्रेस को तगड़ा झटका, प्रमुख किसान नेता यतेंद्र कसाना ने थामा रालोद का दामन

आप अभी तक
गाजियाबाद। कांग्रेस को पश्चिम उत्तर प्रदेश में तगड़ा झटका लगा है। किसान कांग्रेस के पश्चिम उत्तर प्रदेश अध्यक्ष यतेंद्र कसाना ने पार्टी का साथ छोड़कर राष्ट्रीय लोक दल का दामन थाम लिया है। श्री कसाना के पार्टी छोड़ने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को काफी नुकसान हो सकता है।
यतेंद्र कसाना लंबे समय से कांग्रेस से जुड़े हुए थे। कांग्रेस में उन्होंने अपनी राजनीति की शुरुआत छात्र जीवन से शुरू की थी जब उन्होंने एनएसयूआई की सदस्यता ग्रहण की थी। एनएसयूआई से लेकर युवक कांग्रेस तक वे कई प्रमुख पदों पर रहे। इन दिनों यतेंद्र कसाना कांग्रेस की एक इकाई किसान कांग्रेस के पश्चिम उत्तर प्रदेश अध्यक्ष थे। यतेंद्र कसाना एक प्रमुख राजनीतिक परिवार से संबंधित हैं। उनके पिता बिहारी सिंह बागी दादरी क्षेत्र के प्रमुख नेताओं में गिने जाते रहे। बिहारी सिंह बागी दादरी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव भी लड़े थे।
इसके अलावा बिहारी सिंह बागी का लंबा राजनीतिक इतिहास रहा है। देश के कई प्रमुख नेताओं के साथ उनके घनिष्ठ संबंध थे। बिहार सिंह बागी के पुत्र यतेंद्र कसाना भी सामाजिक क्षेत्र में जाना पहचाना नाम है। राजनीति के अलावा श्री कसाना सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भाग लेते रहे हैं। किसानों के बीच उनकी पैठ को देखते हुए ही कांग्रेस नेतृत्व ने उन्हें किसान कांग्रेसका पश्चिम उत्तर प्रदेश अध्यक्ष बनाया था। राष्ट्रीय लोक दल का दामन थामते हुए उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य किसानों के साथ-साथ आम जनता की सेवा करना है। वे यथाशक्ति अपने इस कार्य में संलग्न रहेंगे। रालोद की सदस्यता ग्रहण करने पर उनका रालोद नेताओं ने जोरदार स्वागत किया।

Show More

Related Articles

Close