Breaking Newsउत्तर प्रदेशमेरठराष्ट्रीय

खुशी के त्यौहार पर मीठे व दूध ज़हर का कारोबार जोरों पर।

कुंभकरण की नींद सो रहा स्वास्थ्य विभाग व खाघ विभाग

 

सरधना। खुशियों के पर्व दीपावली में एक दूसरे को बधाई देकर मिठाई खिलाने की परंपरा चलती आ रही है। मिलावटखोरों का धंधा दिन-रात जोरों पर पड़ता जा रहा है। मिलावटी मावे से बनी मिठाइयां एवं अधोमानक खाघ सामग्री बेचकर तमाम दुकानदार शहर का कारोबार कर रहे हैं। लेकिन कुंभकरण की नींद सो रहा स्वास्थ्य विभाग अगर गलती से विभाग खाघ सुरक्षा के अफ़सर अभियान के नाम पर खानापूर्ति कर रहे हैं। गिने-चुने कुछ दुकानों से नमूने लेकर कार्रवाई का दावा करने वाले ऑप्शन जनता की सेहत को लेकर फिक्र बंद नहीं दिख रहे हैं। आपको बता दें कि जैसे-जैसे दीपावली नजदीक आ रही है त्यों त्यों मिठाइयों कारोबार तेजी पकड़ रहा है। दीपावली के दिन तो जिले में लाखों रुपए की मिठाइयों का कारोबारी इसकी वैकल्पिक व्यवस्था करते हैं। कुछ कारोबारी बाहर से मिठाई व मावा मंगवाते हैं। शहर के एक प्रमुख मिठाई कारोबारी की माने तो मिलावटी मावे से बनी सूखी मिठाई का कारोबार पूरे जिले में फैला हुआ है इसका खामियाजा सीधे तौर पर जनता के स्वास्थ्य पर पड़ेगा और बोली बाली आम जनता को भुगतना पड़ेगा।

संवाददाता जावेद अब्बासी

Show More

Related Articles

Close