Breaking Newsराष्ट्रीय

ममता सरकार की घेराबंदी: कोलकाता पहुंचे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का विरोध, दिखाए गए काले झंडे

image_pdf

कोलकाता/ भारतीय जनता पार्टी 2021 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रही है। वह राज्य में आए दिन कोई न कोई आंदोलन या कार्यक्रम कर तृणमूल सरकार को घेर रही है। इसी सिलसिले में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंचे हैं। वहीं, उनके कोलकाता स्थित भाजपा दफ्तर पहुंचते ही विरोध शुरू हो गया। कुछ लोगों द्वारा भाजपा अध्यक्ष को काले झंडे दिखाए गए और उनके खिलाफ ‘गो बैक-गो बैक’ के नारे लगाए गए।

वहीं, नड्डा ने कोलकाता के हेस्टिंग्स में पार्टी के पश्चिम बंगाल राज्य चुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और बंगाल भाजपा प्रभारी दिलीप घोष समेत पार्टी के अन्य नेता मौजूद रहे। बता दें कि नड्डा ममता के गढ़ भवानीपुर में भी कार्यक्रम करने वाले हैं। इसके अलावा वे पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए विभिन्न आयोजनों में हिस्सा लेंगे।

भाजपा के मीडिया विभाग के प्रभारी अनिल बलूनी ने एक बयान में कहा कि नड्डा पश्चिम बंगाल में पार्टी का आधार मजबूत करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। भाजपा संगठन को मजबूत करने के लिए नड्डा 120 दिनों का देशव्यापी दौरा कर रहे हैं। इसकी शुरुआत उन्होंने चार दिसंबर को उत्तराखंड से की थी।

अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान नड्डा कोलकाता के हैस्टिंग्स में पार्टी के चुनाव कार्यालय और नौ जिलों में पार्टी कार्यालयों का उद्घाटन करेंगे। ‘‘आर नोय ओन्याय’’ (और नहीं अत्याचार) अभियान के तहत नड्डा समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों से भी मुलाकात करेंगे। भाजपा अध्यक्ष झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले लोगों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करेंगे और उनकी समस्याओं पर उनसे चर्चा करेंगे।

भाजपा ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए 117 सदस्यीय चुनाव प्रबंधन टीम का गठन किया है। इन टीमों को 31 इकाइयों में बांटा गया है। इसके अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और मंत्रियों को राज्य में काम करने के लिए प्रतिनियुक्त किया गया है। दस दिसंबर को भाजपा अध्यक्ष एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और 24 पूर्वी परगना से पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close