Breaking Newsहमारा गाजियाबाद

गाज‍ियाबाद के कौशांबी से वाया लखनऊ-कानपुर बिहार की सीधी बस सेवा मंगलवार से, क‍िराया सूची तय

लखनऊ। बिहार और यूपी के बीच बस संचालन को लेकर हुए समझौते के तहत बसों के चलाने का रास्ता साफ हो गया है। 16 परमिट मिल गए हैं। चार रूटों पर यूपी की बसें बिहार राज्य में दौड़ेगी। मंगलवार से बस सेवाओं की शुरुआत होगी। देश की राजधानी दिल्ली बार्डर यानी गाजियाबाद के छोर से प्रदेश की राजधानी लखनऊ होते हुए बिहार राज्य की राजधानी पटना समेत तक बसों का संचालन किया जाएगा।

गाजियाबाद के क्षेत्रीय प्रबंधक एके सिंह ने बताया कि मंगलवार से बसों का संचालन शुरू कराया जाएगा। बसों के परमिट मिल गए हैं। इनमें दो रूट वाया लखनऊ और दो रूट वाया कानपुर हैं। ये सभी सेवाएं जनरथ टू बाई टू कैटेगरी की होंगी। मुख्य प्रधान प्रबंधक पीआर बेल्वॉरियर ने बताया कि परमिट भेज दिए गए हैं। करीब-करीब रूट तय है। समय-सारिणी को अंतिम रूप दिया जा रहा है।
कौशांबी-नोएडा-लखनऊ-गाेरखपुर-देवरिया-दरभंगा-पूर्णिया-किशनगंज
कौशांबी-नोएडा-आगरा-कानपुर-प्रयागराज-वाराणसी-गया-नालंदा
कौशांबी-नोएडा-लखनऊ-गाेरखपुर-देवरिया-सिवान-छपरा-पटना
कौशांबी-नोएडा-आगरा-कानपुर-प्रयागराज-वाराणसी-मधेनिया-बक्सर
किराया रुपये में जनरथ-टू बाई टू कैटेगरी
कौशांबी -पटना : 1872.00
जनरथ-बक्सर : 1708.06
जनरथ-किशनगंज : 2443.92
जनरथ-नालंदा : 2089.40
सितंबर 2019 में समझौता हुआ था।
यूपी से 69 बसें चलेंगी तो बिहार से 97 बसों का संचालन होगा।
ये बसें यूपी के 25 शहरों से बिहार के विभिन्न जनपदों के बीच चलेंगी।
‘बीते वर्ष उत्तर प्रदेश और बिहार राज्य के बीच बस चलाने के पारस्परिक समझौते के तहत बसों का संचालन शुरू किया जाएगा। समय-सारिणी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। मंगलवार से बसों की शुरुआत होनी है।’ -धीरज साहू, प्रबंध निदेशक उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम

Show More

Related Articles

Close